लोक सेवा में प्रोन्नित में आरक्षण देना राज्य सरकार का अधिकारः मनोज टंडन

झारखंड लीगल लिटरेसी फोरम के द्वारा लोक सेवाओं में प्रोन्नति में आरक्षण के मुद्दे पर एक वेबिनार आयोजित किया गया। इसके कार्यक्रम के मुख्य वक्ता पूर्व अपर महाधिवक्ता मनोज टंडन थे। उन्होंने सरकारी सेवाओं में प्रोन्नति में आरक्षण के मुद्दे पर विस्तार से अपना विचार रखा।

वेबिनार को संबोधित करते हुए मनोज टंडन ने झारखंड हाई कोर्ट के कई मामलों का उल्लेख किया और सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस विषय में दिए गए न्याय निर्णय से भी अवगत कराया। उन्होंने कहा कि लोक सेवाओं में प्रमोशन में आरक्षण देना राज्य सरकार का अधिकार है। ऐसा प्रावधान राज्य सरकार चाहे तो कर सकती है। सरकार चाहे तो प्रमोशन में आरक्षण देने से मना भी कर सकती है। अब जब विवाद होता है तो अंतिम फैसला सुप्रीम कोर्ट के न्याय निर्णय से निर्धारित किया जाता है। इस कार्यक्रम में लगभग 75 अधिवक्ता जुड़े थे। अंत में कार्यक्र के संयोजक राहूल साबू ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

Most Popular

दल-बदल और बाबूलाल मरांडी को विधायक दल का नेता बनाने के मामले में सुनवाई 19 जनवरी को

-स्पीकर ने शपथपत्र दाखिल कर कहा स्वत: संज्ञान वाले मामले में कोई कार्रवाई नहीं करेंगे-विधायक दल के नेता के मान्यता का मामला...

दलबदल मामला: झारखंड हाई कोर्ट ने स्पीकर से मांगा जवाब, कल होगी सुनवाई

दल-बदल से जुड़े बाबूलाल मरांडी की याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत...

दलबदल मामला: सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड स्पीकर की याचिका खारिज की, कहा हाईकोर्ट वापस जाए

दलबदल मामले में झारखंड विधानसभा अध्यक्ष की ओर से दाखिल एसएलपी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट के चीफ...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, सीएम बेअंत सिंह के हत्यारे राजोआना की मौत की सजा को बदलने पर 26 जनवरी तक विचार करे केंद्र सरकार

नयी दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को केंद्र से कहा कि वह पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या मामले में...