processApi - method not exist
Home Civil Court News सीएम हेमंत सोरेन पर हमले का आरोपी भैरव सिंह ने कोर्ट में...

सीएम हेमंत सोरेन पर हमले का आरोपी भैरव सिंह ने कोर्ट में किया सरेंडर, सात दिन की पुलिस रिमांड पर

इस दौरान हंगामे की स्थिति उत्पन्न हो गई। पुलिस और अधिवक्ताओं में हल्की नोक-झोंक भी हुई। अधिवक्ताओं के विरोध को देखते हुए पुलिस को पीछे हटना पड़ा।

रांचीः झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले को रोकने और उपद्रव के मुख्य आरोपी भैरव सिंह ने रांची सिविल कोर्ट के न्यायिक दंडाधिकारी अभिषेक प्रसाद की अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया।

रांची पुलिस को चकमा देते हुए भैरव सिंह अपने सहयोगियों और अधिवक्ताओं के साथ कोर्ट पहुंचा। इसकी सूचना मिलते ही कोतवाली एएसपी दल बल के साथ कोर्ट पहुंचे।

इस दौरान आरोपी को हिरासत में लेने की कोशिश की। कोर्ट रूम पहुंचने के बाद आरोपित की गिरफ्तारी के प्रयास का अधिवक्ताओं ने कड़ा एतराज जताया।

इस दौरान हंगामे की स्थिति उत्पन्न हो गई। पुलिस और अधिवक्ताओं में हल्की नोक-झोंक भी हुई। अधिवक्ताओं के विरोध को देखते हुए पुलिस को पीछे हटना पड़ा।

इसे भी पढ़ेंः मारपीट मामले में प्रशासनिक संयुक्त सचिव पवन रंजन खत्री पर रांची जिला बार एसोसिएशन की कार्रवाई, तीन माह के लिए सदस्यता निलंबित

इसके बाद सुखदेवनगर थाना पुलिस ने आवेदन देकर पूछताछ के लिए आरोपी को 14 दिनों का रिमांड देने की मांग की। कोर्ट ने पुलिस को सात दिनों के सर्शत रिमांड की अनुमति प्रदान की।

गौरतलब है कि चार जनवरी को सुखदेवनगर थाना क्षेत्र के किशोरगंज में भैरव सिंह एवं उसके साथी ओरमांझी में सिर कटा शव मिलने के बाद विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

इसी दौरान सीएम हेमंत सोरेन सचिवालय से आवास आ रहे थे। पुलिस ने जब उपद्रवियों को हटाने की कोशिश की तो झड़प हो गई जिसमें यातायात थाना प्रभारी नवल किशोर सिंह बुरी तरह घायल हो गए।

पुलिस ने भैरव सिंह सहित 74 लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की थी। इस मामले में चार महिलाएं सहित अबतक 27 लोगों को जेल भेजा जा चुका है।

दुष्कर्म व हत्या के का हो रहा था विरोध प्रदर्शन: भैरव

कोर्ट से हाजत ले जाने के दौरान भैरव सिंह ने कहा कि ओरमांझी में हमारी बहन की जघन्य हत्या हुई। यह दृष्य देखकर किसी भी भाई का खून नहीं खौलेगा।

हमलोग अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। हमें इसकी जानकारी नहीं थी कि सीएम के काफिला उधर से गुजरने वाला है और न ही हमलोगों ने सीएम के काफिले पर हमला किया। पुलिस दुष्कर्मी को पकड़ने के बजाय आवाज उठाने वालों को झूठे मुकदमे में फंसा रही है।

RELATED ARTICLES

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को मिली जमानत, आपत्तिजनक भाषण देने का मामला

Sultanpur: CM Arvind Kejriwal दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सुल्तानपुर एमपी-एमएलए कोर्ट से जमानत मिल गई। उन पर 2014 के...

Conspiracy to topple Hemant Government: 90 दिन में आरोप पत्र दाखिल नहीं कर पाई पुलिस, तीनों आरोपियों को मिली जमानत

Ranchi: Conspiracy to topple Hemant Government झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार को गिराने की साजिश में शामिल तीनों अभियुक्तों को अदालत से...

Case of assault on property dealer: पूर्व सपा सांसद अतीक अहमद के बेटे मो. उमर की सम्पति जब्त करने का आदेश

Lucknow: Case of assault on property dealer सीबीआई की विशेष अदालत ने लखनऊ के एक प्रापर्टी डीलर को अगवा कर देवरिया जेल...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

SC-ST case: सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला- SC-ST कानून के तहत केस समझौते के आधार पर खत्म कर सकती हैं अदालतें

New Delhi: SC-ST case सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसले में कहा है कि सजा के बाद अपील के दौरान हुए समझौते...

Assistant Professor Appointment: हाईकोर्ट ने बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में होने वाली नियुक्ति प्रक्रिया पर लगाई रोक

Ranchi: Assistant Professor Appointment बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर सह कनीय वैज्ञानिक के पदों पर संविदा के आधार पर होने वाली...

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को मिली जमानत, आपत्तिजनक भाषण देने का मामला

Sultanpur: CM Arvind Kejriwal दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सुल्तानपुर एमपी-एमएलए कोर्ट से जमानत मिल गई। उन पर 2014 के...

Life Imprisonment: 17 साल जेल में बंद आरोपियों के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हाईकोर्ट जल्द करे अपील पर सुनवाई

New Delhi: Life Imprisonment सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट से कहा है कि वह उन तीन आरोपियों की अपील पर जल्दी सुनवाई...