Terror Funding Case: दो आरोपियों की जमानत पर हाईकोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

रांची। झारखंड हाईकोर्ट ने बहस पूरी होने के बाद टेरर फंडिंग के दो आरोपियों की जमानत पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। जस्टिस एचसी मिश्र व जस्टिस राजेश कुमार की अदालत टेरर फंडिंग के आरोपी मनोज यादव और प्रदीप राम की जमानत पर मंगलवार को सुनवाई कर रही थी। सभी पक्षों की ओर से दलीलें पूरी होने के बाद कोर्ट ने जमानत पर फैसला सुरक्षित रख लिया है।

मनोज यादव पर आरोप है कि वह गिरिडीह इलाके में ठेकेदारी करने वाली कंपनी व माओवादियों के बीच मध्यस्था का करता था। वह इन कंपनियों से लेवी वसूल कर माओवादियों को पहुंचाता था। यह मामला तब सामने आया जब लेवी के छह लाख रुपये के साथ मनोज यादव को गिरफ्तार किया गया। जांच में यह बात भी समाने आयी कि मनोज यादव रामकृपाल कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड में काम कर चुका है। लेवी की राशि से माओवादी हथियार की खरीदारी करते हैं और उसका इस्तेमाल पुलिस के खिलाफ किया जाता है। फिलहाल इस मामले की जांच एनआइए कर रही है।

इसे भी पढ़ेंः घूसखोर कार्यपालक अभियंता की सजा बरकरार, हाईकोर्ट ने खारिज की अपील याचिका

Most Popular

दारोगा बहालीः पीटी परीक्षा में आरक्षण की मांग वाली याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत में दारोगा नियुक्ति की प्रारंभिक परीक्षा...

सड़क निर्माण के लिए पेड़ काटने जाने पर हाईकोर्ट ने सरकार से मांगा जवाब

Ranchi: मझियांव- कांडी सड़क निर्माण के लिए पेड़ों की गलत तरीके से हो रही कटाई को लेकर दायर जनहित याचिका पर सुनवाई...

खूंटी में मनरेगा में गड़बड़ी मामले में राज्य सरकार से हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

Ranchi: खूंटी जिले में मनरेगा की योजनाओं में हुई गड़बड़ी की जांच के लिए दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए झारखंड...

खाद्य पदार्थ में मिलावट पर सुप्रीम कोर्ट ने आरोपियों के वकील से पूछा- क्‍या मिलावटी गेहूं खाएंगे..!

New Delhi: food adulteration सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने खाद्य पदार्थ में मिलावट के एक मामले में आरोपी मध्य प्रदेश के दो...