रांची सदर अस्पताल के शुरू होने के मामले में मुख्य सचिव से मांगा जवाब

रांची। झारखंड हाईकोर्ट ने 500 बेड की क्षमता वाले सदर अस्पताल के शुरु नही होने पर मुख्य सचिव से जवाब मांगा है। चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत ने मुख्य सचिव यह बताने को कहा है कि कोर्ट के आदेश के बाद भी अस्पताल क्यों नहीं शुरू हो सका है। अदालत कहा कि जब तीन साल पहले ही सरकार को 500 बेड का अस्पताल को शुरू करने का आदेश दिया था, तो अब तक शुरू क्यों नहीं हुआ है। उस दौरान सरकार ने भी अंडरटेकिंग दी थी, लेकिन अभी भी सरकार यह बताने की स्थिति में नहीं है कि 500 बेड का अस्पताल कब तक शुरू हो पाएगा।

अदालत ने मुख्य सचिव पूछा है कि कितनी क्षमता के साथ अस्पताल को शुरू किया गया है। यहां पर किस प्रकार की सुविधा उपलब्ध हैं और 500 बेड की क्षमता वाले अस्पताल को शुरू करने के लिए क्या-क्या कदम उठाए जा रहे हैं। सुनवाई के दौरान अदालत ने मौखिक टिप्पणी करते हुए कहा कि यदि सरकार अंडरटेकिंग के दौरान कही बातों को पूरा करती तो कोरोना संक्रमण जैसी महामारी के दौरान इलाज के लिए 300 बेड की अतिरिक्त सुविधा रहती। लेकिन अफसोस इस बात का है कि सरकार सदर अस्पताल के मामले में जानकारी देने के लिए अभी भी समय की मांग कर रही है। सुनवाई के दौरान सरकार की ओर से कहा गया कि मुख्य सचिव ने इसको लेकर बैठक की है और अस्पताल को सुविधाएं मुहैया करने के लिए दिशा निर्देश भी जारी किए गए हैं।

इस दौरान प्रार्थी की ओर से बताया गया कि सरकार ने 200 बेड से अस्पताल तो शुरु किया है, लेकिन यहां आइसीयू की सुविधा अभी तक शुरु नहीं की गयी है। सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार जिन अस्पतालों में ऑपरेशन होता है वहां आइसीयू की सुविधा होना अनिवार्य है। सरकार ने अभी तक सदर अस्पताल को सुपर स्पेश्यिलिटी के रूप में तैयार भी नहीं किया है। इस कारण सरकार पर अवमानना का मामला चलाया जाना चाहिए। बता दें कि ज्योति शर्मा ने अवमानना याचिका दाखिल की है।

इसे भी पढ़ेंः आदेश के बाद अल्पसंख्यक कॉलेज के शिक्षकों को पेंशन नहीं देने पर अदालत ने लगाया 36.50 लाख का हर्जाना

Most Popular

आक्सीजन व दवाओं के हाहाकार पर सुप्रीम कोर्ट की चिंता, कहा- इमरजेंसी जैसे हालात

New Delhi: कोरोना संक्रमण के बीच लोगों को ऑक्सीजन और दवाइयों नहीं मिलने पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई है। सुप्रीम...

दिल्ली हाई कोर्ट ने गोपनीयता नीति की जांच के खिलाफ दाखिल व्हाट्सऐप व फेसबुक की याचिका खारिज की

New Delhi: दिल्ली हाई कोर्ट ने व्हाट्स ऐप की नई गोपनीयता नीति की जांच करने के भारत के प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के...

स्वास्थ्य सचिव कोरोना संक्रमित, जवाब दाखिल करने के लिए हाईकोर्ट से मांगा समय

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत में गुरुवार को कोरोना संक्रमण से निपटने...

Corona Good News: झालसा ने हर जिले में बनाया वार रूम, फ्री में मिलेंगी दवाएं और चिकित्सकीय सलाह

Ranchi: कार्यकारी अध्यक्ष जस्टिस अपरेश कुमार सिंह के निर्देश पर झालसा ने कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण में इलाज को लेकर परेशान...