डॉक्टर नियुक्ति मामलाः सरकार ने कहा- संविदा पर काम करने वाले चिकित्सकों उम्र में नहीं दी जा सकती छूट

रांची। झारखंड के जस्टिस संजय कुमार द्विवेदी की अदालत में राज्य में संविदा पर काम करने वाले चिकित्सकों की ओर से नियुक्ति में उम्र में छूट की मांग वाली याचिका पर सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान राज्य सरकार की ओर से अदालत में जवाब दाखिल किया गया। इसमें कहा गया कि संविदा पर काम करने वाले चिकित्सकों को नियुक्ति में उम्र की छूट नहीं दी जा सकती है। हालांकि भविष्य की नियुक्ति में इनके मामले में विचार किया जा सकता है।

इस पर प्रार्थी की ओर से विज्ञापन में उम्र के कट ऑफ डेट को घटाने की मांग की गई। इस मसले पर अदालत ने विस्तृत सुनवाई के लिए 9 नवंबर की तिथि निर्धारित की है। इसको लेकर डॉ अमित कुमार सिन्हा ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। सुनवाई के दौरान प्रार्थी के अधिवक्ता ऋषि पल्लव व ओमिया अनुषा ने अदालत को बताया कि जेपीएससी ने राज्य में चिकित्सकों की नियुक्ति के लिए विज्ञापन निकाला है। वे लोग राज्य में संविदा पर काम कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ेंः Acid Attack: पीड़िता चाहे तो वीसी के जरिए अदालत में हो सकती है उपस्थित

लेकिन उनकी उम्र ज्यादा होने की वजह से वे आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। राज्य सरकार ने छह साल बाद चिकित्सकों की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू की है। इसके चलते कई चिकित्सक की आवेदन करने की उम्र से ज्यादा हो गया है। इसमें इनकी नहीं बल्कि सरकार की गलती है। अगर सरकार पहले ही नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू कर देती, तो ऐसी स्थिति उत्पन्न नहीं होती। इसलिए विज्ञापन में दिए गए उम्र के कट ऑफ डेट एक अगस्त 2020 को की जगह एक अगस्त 2015 कर दिया जाए।

इसके बाद उम्र में छूट देने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अधिवक्ता ऋषि पल्लव ने अदालत को बताया कि झारखंड हाईकोर्ट की खंडपीठ ने वर्ष 2009 में संजीव कुमार सहाय बनाम झारखंड सरकार के मामले ऐसा करने का आदेश दिया था। इस पर सरकार और जेपीएससी की ओर से इस दलील का विरोध किया गया। इसके बाद अदालत ने कहा कि इस मामले में विस्तृत सुनवाई किए जाने की जरूरत है। इसके बाद अदालत ने मामले की सुनवाई के लिए नौ नवंबर की तिथि निर्धारित की है।  

Most Popular

तांडव विवादः अमेजन प्राइम वीडियो की अपर्णा पुरोहित की गिरफ्तारी पर सुप्रीम कोर्ट की रोक

नई दिल्लीः Tandav Controversy सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सोशल मीडिया के नियमन पर केन्द्र के दिशानिर्देशों में अनुचित विषयवस्तु दिखाने वाले...

रिम्स निदेशक ने मेडिकल बोर्ड रिपोर्ट देरी से पेश करने पर हाईकोर्ट से मांगी माफी

रांचीः Lalu Prasad Lalu Yadadv, Lalu Prasad Yadav झारखंड हाई कोर्ट में लालू प्रसाद के जेल उल्लंघन मामले में सुनवाई के दौरान...

टी-शर्ट और टॉफी खरीद घोटाले में आपत्ति समाप्त करने पर महालेखाकार कार्यालय से हाई कोर्ट ने मांगा जवाब

रांचीः झारखंड हाई कोर्ट ने मोमेंटम झारखंड के दौरान टी-शर्ट और टॉफी किट घोटाले से संबंधित मामले को सरकार के जवाब के...

साइबर अपराधः HC ने RBI से पूछा, ग्राहकों के पैसे कैसे रहेंगे सुरक्षित

रांचीः राज्य में साइबर अपराध के बढ़ते मामले और ग्राहकों के पैसे सुरक्षित रखने के लिए झारखंड हाई कोर्ट ने भारतीय रिजर्व...