Lalu Yadav: लालू प्रसाद की तबीयत स्थिर, RIMS निदेशक ने कहा, 25 फीसदी किडनी काम करने वाली खबर फर्जी

जब इस बारे में डॉ प्रसाद को कारण बताओ नोटिस देकर पूछा गया तो उन्होंने लिखित तौर पर स्पष्ट किया है कि उन्होंने मीडिया से इस सिलसिले में कोई बातचीत नहीं की है और जो भी जानकारी उनके हवाले से प्रकाशित या प्रसारित की गयी है वह गलत है।

रांचीः चारा घोटाले (Chara Ghotala) में सजा काट रहे (RJD Chief Lalu) राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तबियत ठीक है। उनका इलाज करने वाले चिकित्सक डॉ उमेश प्रसाद को मीडिया में 25 प्रतिशत किडनी काम करने वाले बयान के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

झारखंड के कारा महानिरीक्षक वीरेन्द्र भूषण ने राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान (RIMS) से प्राप्त लालू प्रसाद यादव की नवीनतम चिकित्सा रिपोर्ट का हवाला कहा कि लालू प्रसाद यादव का स्वास्थ्य स्थिर है और उनके स्वास्थ्य को किसी भी प्रकार का कोई खतरा नहीं है।

दरअसल, लालू प्रसाद यादव इलाज कर रहे (Dr Umesh Prasad) डॉ उमेश प्रसाद के हवाले से मीडिया में रिपोर्ट आयी कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है और उनकी किडनी केवल 25 प्रतिशत क्षमता से काम कर रही है।

इस पर रिम्स के निदेशक डॉ कामेश्वर प्रसाद ने बताया कि मीडिया में लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य को लेकर उनकी चिकित्सक रहे डॉ उमेश प्रसाद हवाले से खबरे आई थी।

लेकिन जब इस बारे में डॉ प्रसाद को कारण बताओ नोटिस देकर पूछा गया तो उन्होंने लिखित तौर पर स्पष्ट किया है कि उन्होंने मीडिया से इस सिलसिले में कोई बातचीत नहीं की है और जो भी जानकारी उनके हवाले से प्रकाशित या प्रसारित की गयी है वह गलत है।

इसे भी पढ़ेंः आरक्षण मामलाः सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, कोटा का मतलब योग्यता को नकारना नहीं

डॉ कामेश्वर प्रसाद ने कहा कि रिम्स में इलाजरत लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य के बारे में विगत दिनों जो कुछ भी प्रकाशित या प्रसारित किया गया वह आधिकारिक नहीं है। लालू प्रसाद यादव का स्वास्थ्य ठीक है।

यदि उनका इलाज कर रहे चिकित्सक ने कहीं कुछ कहा भी है तो वह उनका व्यक्तिगत विचार है।उन्होंने कहा कि अगर लालू प्रसाद के स्वास्थ्य में यदि किसी भी प्रकार की गड़बड़ी होगी तो उसकी जांच मेडिकल बोर्ड कर रिपोर्ट देगा।

रिम्स निदेशक ने कहा, लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य का संस्थान में पूरा ख्याल रखा जा रहा है और इसमें कहीं कोई कोताही नहीं है और न ही कोई चिंता की बात है।

लालू प्रसाद यादव की किडनी 25 फीसदी तक खराब होने की बात की गई थी। उसपर रिम्स के प्रवक्ता तथा अतिरिक्त निदेशक डॉ. वाघमारे प्रसाद कृष्णा ने कहा कि यह सामान्य रिपोर्ट है इसमें किसी विशेषज्ञ की राय नहीं ली गई है।

रिम्स के नेफ्रोलॉजी विभाग से पुष्टि करने पर भी ज्ञात हुआ कि लालू के किडनी की स्थिति के बारे में वहां से कोई राय ही नहीं ली गई थी। विभाग ने बताया कि यदि उन्हें कोई गंभीर संकट होता तो निश्चित तौर पर नेफ्रोलॉजी विभाग को इसकी सूचना दी गई होती।

जेल प्रशासन ने यह भी बताया कि लालू प्रसाद यादव की 10 दिसंबर तक की चिकित्सा रिपोर्ट उसे प्राप्त हुई है जिसमें उनके स्वास्थ्य को स्थिर बताया गया है और उनके सभी महत्वपूर्ण अंग ठीक से काम कर रहे हैं।

Most Popular

छात्रों को निकालने का मामलाः HC ने कहा कि स्कूल छात्रों को वापस लेने पर विचार कर सकती है

रांचीः हजारीबाग के सेंट जेवियर स्कूल से निकाले गए छात्रों के मामले में सुनवाई करते हुए झारखंड हाई कोर्ट ने कहा है...

दुमका कोषागार मामलाः लालू प्रसाद ने हाईकोर्ट से जमानत पर जल्द सुनवाई की लगाई गुहार

रांचीः (Chara Ghotala) चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे (Lalu Yadav) लालू प्रसाद ने (Jharkhand High Court) झारखंड हाई कोर्ट में...

Lalu Yadav Health Update: बेहतर इलाज के लिए लालू प्रसाद भेजे जा सकते हैं दिल्ली एम्स

रांचीः Lalu Prasad Yadav Health Update बेहतर इलाज के लिए लालू प्रसाद यादव को रिम्स (RIMS) से दिल्ली स्थित (Delhi AIIMS) एम्स...

Lalu Yadav News: लालू के जेल मैनुअल उल्लंघन मामले में हाईकोर्ट ने गृह विभाग से मांगा जवाब

रांचीः Lalu Prasad Yadav चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे लालू प्रसाद के जेल मैनुअल उल्लंघन मामले में अब पांच फरवरी...