रांची। झारखंड हाईकोर्ट ने लालू प्रसाद की जमानत पर अर्जेंट सुनवाई के आग्रह को स्वीकार कर लिया है। लालू प्रसाद की जमानत पर शुक्रवार को सुनवाई होगी। जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत में लालू की जमानत याचिका सुनवाई के लिए सूचीबद्ध है। लालू प्रसाद ने आधी सजा काटने के आधार पर दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में जमानत देने की गुहार लगाई है।

लालू प्रसाद के अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने बताया कि छह नवंबर यानि शुक्रवार को सुनवाई की तिथि निर्धारित करने के लिए हाईकोर्ट में अर्जेंट मेंशन किया गया था। अदालत ने उनके आग्रह को स्वीकार कर लिया है और जमानत पर सुनवाई के लिए शुक्रवार की तिथि निर्धारित की है। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद ने दुमका कोषागार वाले मामले में भी आधी सजा काट ली है। इस मामले में लालू को जमानत मिलती है, तो वे जेल से रिहा हो जाएंगे।

उनके अनुसार लालू ने इस मामले में 41 माह जेल में गुजारे हैं जो सजा की आधी अवधि होती है। गौरतलब है कि लालू प्रसाद को दुमका वाले मामले में सीबीआई कोर्ट ने सात साल की सजा सुनाई है। जमानत याचिका में लालू प्रसाद ने किडनी, हृदय रोग सहित 16 तरह की बीमारी होने का हवाला दिया गया है। फिलहाल उनका इलाज रिम्स के निदेशक बंगले में हो रहा है।

लालू की बीमारी व जेल में मिलने वालों की मांगी जानकारी

झारखंड हाईकोर्ट ने लालू प्रसाद को चाईबासा वाले मामले में जमानत की सुविधा प्रदान करते हुए रिम्स से लालू की बीमारी के बारे में पूरी जानकारी मांगी थी। इसके अलावा अदालत ने जेल अथॉरिटी से पूछा था कि जेल में रहने के दौरान लालू प्रसाद से कितने लोग मिले हैं। इस मामले में कोर्ट ने छह नवंबर की तिथि निर्धारित की है। अब इसी दिन लालू की जमानत पर भी सुनवाई होगी।