रांची। झारखंड हाईकोर्ट ने सोमवार को एक और मामले में स्वतः संज्ञान लिया है। चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत ने अखबारों में छपी खबर के बाद एक संस्था द्वारा लिखे गए पत्र भुखमरी, गरीबी और कुपोषण के चलते एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत पर संज्ञान लिया और राज्य सरकार से पूरे मामले पर जानकारी मांगी है। इस मामले में 27 नवंबर को सुनवाई होगी।

इसे भी पढ़ेंः गढ़वा की नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना पर हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान, पूछा- जांच को लेकर क्या कदम उठाए गए

अदालत ने अपने आदेश में कहा है कि पत्र के आधार पर कोर्ट इस मामले में संज्ञान लेते हुए इसे जनहित याचिका में बदल रही है। पत्र में कहा गया है कि बोकारो जिले के कसमार ब्लाक में भुखमरी, गरीबी और बीमारी के चलते छह माह में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। इस समय अदालत इस मामले में कोई कमेंट नहीं करती है, लेकिन इस मामले में राज्य सरकार अपनी रिपोर्ट अदालत में दाखिल करें।