झारखंड प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन की नियुक्ति मामले में हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

अदालत ने इस मामले में आदेश के बाद भी जवाब दाखिल नहीं किए जाने पर फिर से राज्य सरकार, प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड और पीके वर्मा से जवाब मांगा है।

281
high court of jharkhand

रांचीः झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand High Court) के जस्टिस संजय कुमार द्विवेदी की अदालत में राज्य प्रूदषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई हुई।

सुनवाई के दौरान अदालत की ओर से नोटिस किए जाने के बाद बोर्ड के चेयरमैन पीके वर्मा की ओर से अधिवक्ता ने हाईकोर्ट में पक्ष रखने के लिए अपना वकालतनामा दाखिल किया।

इसके बाद अदालत ने इस मामले में आदेश के बाद भी जवाब दाखिल नहीं किए जाने पर फिर से राज्य सरकार, प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड (Jharkhand Pollution Control Board) और पीके वर्मा से जवाब मांगा है।

इसे भी पढ़ेंः हजारीबाग के सेंट जेवियर स्कूल से निकाले गए छात्रों की याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई टली

इस संबंध में प्रतीक शर्मा की ओर से हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। याचिका में कहा गया है कि प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन पद पर पीके वर्मा की नियुक्ति गलत है।

पीके वर्मा इस पद के लिए योग्यता नहीं रखते हैं। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार इस पर नियुक्त होने वाले के पास पर्यावरण की विशेष योग्यता होनी चाहिए।

इस मामले में अदालत ने पिछली सुनवाई के दौरान वर्तमान चेयरमैन पीके वर्मा को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था।