Home high court news टेरर फंडिंग के आरोपी महेश अग्रवाल की याचिका पर दस सितंबर को...

टेरर फंडिंग के आरोपी महेश अग्रवाल की याचिका पर दस सितंबर को होगी सुनवाई

रांची। झारखंड हाईकोर्ट टेरर फंडिंग मामले में आरोपी महेश अग्रवाल की याचिका पर सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान अदालत को बताया गया कि समान मामला चीफ जस्टिस की खंडपीठ में सुनवाई हो रही है। इसके बाद जस्टिस एचसी मिश्र व जस्टिस राजेश कुमार की अदालत ने इस मामले को उन्हीं याचिकाओं के साथ टैग करने का निर्देश दिया। मामले में अगली सुनवाई दस सितंबर को होने की संभावना है। गौरतलब है कि टेरर फंडिंग के मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस की खंडपीठ कर रही है। इस मामले को भी उसी कोर्ट में सुनवाई के लिए भेजने का निर्देश दिया है। आम्रपाली एवं मगध कोल परियोजना में शांति समिति के जरिए लेवी वसूली जाती थी। उक्त राशि उग्रवादी संगठन टीपीसी को भी दी जाती थी। एनआइए मामले को टेकओवर कर जांच कर रही है।

भूमि घोटाले के आरोपी सीओ ने याचिका ली वापस

झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस एके चौधरी की अदालत में भूमि घोटाले के आरोपी नामकुम के तत्कालीन सीओ विजय किशोर सहाय की याचिका पर सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान उनकी ओर से याचिका वापस लेने की अदालत से गुहार लगाई गई। अदालत ने याचिका वापस लेने की अनुमति प्रदान कर दी। विजय किशोर सहाय की ओर से याचिका दाखिल कर इस मामले में दर्ज प्राथमिकी सहित निचली अदालत की सभी कार्रवाई को निरस्त करने की मांग की गई थी।

सुनवाई के दौरान अदालत को बताया गया कि इस मामले में निचली अदालत में आरोप गठन हो गया है। ट्रायल भी शुरू हो गया है। ऐसे में उक्त याचिका को वापस लेने की अनुमति दी जाए। इस पर कोर्ट ने याचिका वापस लेने की अनुमति प्रदान कर दी। विजय किशोर सहाय पर नामकुम सीओ रहते हुए लोगों से मिलीभगत कर करीब 25 एकड़ सरकारी जमीन की बंदोबस्ती करने का आरोप है। इस मामले की जांच निगरानी को सौंपी गई थी। वर्ष 2013 में निगरानी ने प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू की थी। इसी के खिलाफ विजय किशोर सहाय ने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की थी।

इसे भी पढ़ेंः अनुकंपा के आधार पर नौकरी में लिंग का भेदभाव नहीं कर सकता सीसीएलः हाईकोर्ट

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

ईवीएम में चुनाव चिन्ह की जगह लगे उम्मीदवार की तस्वीर, सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल

दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल कर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों से राजनीतिक दलों के चुनाव चिन्ह हटाने और उनके स्थान...

राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का हाईकोर्ट में लड़ा जाएगा मुफ्त में मुकदमा

रांची। अगर आप आर्थिक रूप से कमजोर हैं और आपको झारखंड हाईकोर्ट में मुकदमा करना है, तो न तो आपको हाईकोर्ट आना...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हाथरथ मामले की सीबीआई जांच की निगरानी करेगा इलाहाबाद हाईकोर्ट

दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले की एक दलित लड़की के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और फिर...

हाईकोर्ट ने सांसदों और विधायकों के खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों की मांगी सूची

जबलपुर। मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने राज्य में पूर्व और मौजूदा सांसदों व विधायकों के खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों की सूची मांगी है।...

Recent Comments