झारखंड स्टेट बार काउंसिल के पूर्व चेयरमैन पीसी त्रिपाठी का निधन

रांचीः झारखंड बार काउंसिल के पूर्व चेयरमैन और वरीय अधिवक्ता प्रेमचंद त्रिपाठी का शुक्रवार को अहले सुबह निधन हो गया था। वह बीमार चल रहे थे और शहर के एक निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। अहले सुबह 4.45 बजे उन्होंने अंतिम सांसे ली। वह 78 वर्ष के थे।

पीसी त्रिपाठी का पार्थिव शरीर नामकुम स्थित चटकपुर आवास में लोगों के दर्शन के लिए रखा गया था। शाम में नामकुम के स्वर्णरेखा नदी के किनारे उनका अंतिम संस्कार किया गया। वरीय अधिवक्ता प्रेमचंद त्रिपाठी का जन्म वर्ष 1942 में हुआ था।

इसे भी पढ़ेंः सीएम हेमंत सोरेन पर टिप्पणी मामले में सांसद निशिकांत दुबे ने अदातल में दाखिल किया लिखित बयान

उन्होंने वर्ष 1963 में बिहार स्टेट बार काउंसिल में अधिवक्ता के रूप में अपना निबंधन कराया था। अपने 56वर्षो के वकालत काल में कई महत्वपूर्ण मामलों में पैरवी की। पटना उच्च न्यायालय के रांची बेंच के गठन के साथ साथ झारखंड उच्च न्यायालय के गठन में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया।

पीसी त्रिपाठी आपराधिक और सिविल दोनों मामलों के विशेषज्ञ थे। वे लगभग चार साल तक झारखंड बार काउंसिल के अध्यक्ष के रूप में काम किया। वकीलों की कल्याणकारी योजनाएं लागू कराने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी। उनके निधन पर हाईकोर्ट के जजों, वकीलों ने शोक जताया है।

झारखंड हाईकोर्ट एडवोकेट एसोसिएशन धीरज कुमार ने कहा है कि उनके निधन से अपूरणीय क्षत्ति हुई है। झारखंड बार काउंसिल के पूर्व चेयरमैन व वरीय अधिवक्ता अजीत कुमार ने भी उनके निधन पर शोक जताया है। बार काउंसिल के अध्यक्ष राजेंद्र कृष्णा, मीडिया प्रभारी संजय विद्रोही, बालेश्वर प्रसाद सहित अन्य अधिवक्ताओं ने उनके आवास पर जाकर श्रद्धांजलि दी।

Most Popular

दल-बदल और बाबूलाल मरांडी को विधायक दल का नेता बनाने के मामले में सुनवाई 19 जनवरी को

-स्पीकर ने शपथपत्र दाखिल कर कहा स्वत: संज्ञान वाले मामले में कोई कार्रवाई नहीं करेंगे-विधायक दल के नेता के मान्यता का मामला...

दलबदल मामला: झारखंड हाई कोर्ट ने स्पीकर से मांगा जवाब, कल होगी सुनवाई

दल-बदल से जुड़े बाबूलाल मरांडी की याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत...

दलबदल मामला: सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड स्पीकर की याचिका खारिज की, कहा हाईकोर्ट वापस जाए

दलबदल मामले में झारखंड विधानसभा अध्यक्ष की ओर से दाखिल एसएलपी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट के चीफ...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, सीएम बेअंत सिंह के हत्यारे राजोआना की मौत की सजा को बदलने पर 26 जनवरी तक विचार करे केंद्र सरकार

नयी दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को केंद्र से कहा कि वह पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या मामले में...