PM Modi Covid Vaccine: वैक्सीन लगवाने के बाद नर्स से बोले PM मोदी, लगा भी दी पता भी नहीं चला

नर्स पी निवेदा ने कहा, सर (पीएम मोदी) को भारत बायोटेक के कोवाक्सिन की पहली खुराक दी गई है, दूसरी खुराक 28 दिनों में दी जाएगी। उन्होंने मुझसे पूछा कि टीकाकरण के बाद हम कहां के हैं? उन्होंने कहा, "लगा भी दी, पता भी नहीं चला।"

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIMS) में कोविड-19 टीके की पहली खुराक ली और उन सभी लोगों से टीका लगवाने की अपील की, जो दूसरे चरण के टीकाकरण अभियान के तहत इसकी पात्रता रखते हैं।

पुडुचेरी की रहने वाली सिस्टर पी निवेदा ने मोदी को भारत बायोटेक के CoVaccine कोवैक्सीन टीके की पहली खुराक लगाई। पीएम मोदी को वैक्सीन लगाती तस्वीर में दो नर्स दिखाई दे रही हैं। उनमें से एक नर्स ने पीएम मोदी के साथ हुए अपने एक्सपीरियंस को शेयर किया।

नर्स पी निवेदा ने कहा, सर (पीएम मोदी) को भारत बायोटेक के कोवाक्सिन की पहली खुराक दी गई है, दूसरी खुराक 28 दिनों में दी जाएगी। उन्होंने मुझसे पूछा कि टीकाकरण के बाद हम कहां के हैं? उन्होंने कहा, “लगा भी दी, पता भी नहीं चला।”

इसे भी पढ़ेंः जज ने पूछा लालू की तबीयत का हाल, वकील ने कहा, एम्स के इलाज से थोड़ा सुधार

मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘मैंने एम्स में कोविड-19 टीके की पहली खुराक ली। कोविड-19 के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने बहुत कम समय में असाधारण काम किया है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं उन सभी लोगों से कोरोना वायरस का टीका लगवाने की अपील करता हूं, जो इसके पात्र हैं। हम सब मिलकर भारत को कोविड-19 से मुक्त बनाएंगे।’’

दूसरे चरण के टीकाकरण अभियान के तहत, एक मार्च से वरिष्‍ठ नागरिकों और गंभीर बीमारियों से पीड़ित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीका लगाया जाएगा।

टीकाकरण के लिए लोग कोविन टू-पाइंट जीरो पोर्टल या आरोग्‍य सेतु जैसे अन्‍य आई टी ऐप्‍लीकेशन पर अपना पंजीकरण करा सकेंगे।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट के साथ ही टीका लगवाते हुए अपनी एक तस्वीर भी साझा की, जिसमें वह असमिया गमछा पहने दिख रहे हैं और मुस्कुराते हुए टीका लगवा रहे हैं। उनके साथ इस तस्वीर में सिस्टर निवेदा के अलावा केरल की रहने वाली एक अन्य नर्स रोसम्मा अनिल भी दिख रही हैं।

प्रधानमंत्री के एम्स पहुंचने के दौरान किसी भी रास्ते को बंद नहीं किया गया और ना ही यातायात को रोका गया। लोगों को परेशानी न हो, इसलिए उन्होंने टीके के लिए सुबह का समय चुना।

Most Popular

आक्सीजन व दवाओं के हाहाकार पर सुप्रीम कोर्ट की चिंता, कहा- इमरजेंसी जैसे हालात

New Delhi: कोरोना संक्रमण के बीच लोगों को ऑक्सीजन और दवाइयों नहीं मिलने पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई है। सुप्रीम...

दिल्ली हाई कोर्ट ने गोपनीयता नीति की जांच के खिलाफ दाखिल व्हाट्सऐप व फेसबुक की याचिका खारिज की

New Delhi: दिल्ली हाई कोर्ट ने व्हाट्स ऐप की नई गोपनीयता नीति की जांच करने के भारत के प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के...

स्वास्थ्य सचिव कोरोना संक्रमित, जवाब दाखिल करने के लिए हाईकोर्ट से मांगा समय

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत में गुरुवार को कोरोना संक्रमण से निपटने...

Corona Good News: झालसा ने हर जिले में बनाया वार रूम, फ्री में मिलेंगी दवाएं और चिकित्सकीय सलाह

Ranchi: कार्यकारी अध्यक्ष जस्टिस अपरेश कुमार सिंह के निर्देश पर झालसा ने कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण में इलाज को लेकर परेशान...