सहायक पुलिसकर्मी कर रहे प्रर्दशन, मैदान खाली कराने को लेकर हाईकोर्ट में पीआईएल

रांची। सहायक पुलिसकर्मी अपनी मांगों को लेकर मोरहाबादी मैदान में आंदोलन कर रहे है। इसके लिए वे रात-दिन मैदान में डंटे हुए हैं। शनिवार को हेमंत सरकार के मंत्री मिथिलेश ठाकुर उन्हें मनाने पहुंचे थे, लेकिन वार्ता विफल रही और सहायक पुलिसकर्मी आंदोलन जारी रखने के मूड में हैं। इसी बीच झारखंड हाईकोर्ट में सहायक पुलिसकर्मियों से मोरहाबादी मैदान खाली कराने के लिए जनहित याचिका दाखिल की गई है। जीतेंद्र कुमार ने याचिका दाखिल कर अदालत से इस मामले की जल्द सुनवाई करने का आग्रह किया है।

याचिका में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए कहा गया है कि सार्वजनिक स्थल पर किसी प्रकार का प्रदर्शन या विरोध कार्यक्रम नहीं किया जा सकता। लेकिन रांची के मोरहाबादी मैदान में बड़ी संख्या में सहायक पुलिसकर्मी जमा होकर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस कारण सार्वजनिक मैदान का अतिक्रमण हो गया है। आंदोलनकारी यहां गंदगी फैला रहे हैं और ट्रैफिक भी जाम हो रहा है। इससे मॉर्निंग वॉक करने वालों को परेशानी हो रही है।

याचिका में कहा गया है कि सहायक पुलिसकर्मियों का आंदोलन अवैध है और इसके लिए प्रशासन से पूर्व में अनुमति भी नहीं ली गई है। याचिका में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला दिया गया है, जिसमें कोर्ट ने धरना- प्रदर्शन निर्धारित स्थल पर ही करने का आदेश दिया है। सार्वजनिक स्थानों में इस प्रकार का विरोध प्रदर्शन नहीं किया जा सकता। अदालत से आम लोगों के हित में मोरहाबादी मैदान से सहायक पुलिसकर्मियों को हटाने का निर्देश देने का आग्रह किया गया है।

इसे भी पढ़ेंः चांडिल स्टेशन पर डंपिंग यार्ड बनाने से होने वाले प्रदूषण पर रेलवे से जवाब तलब

Most Popular

दल-बदल और बाबूलाल मरांडी को विधायक दल का नेता बनाने के मामले में सुनवाई 19 जनवरी को

-स्पीकर ने शपथपत्र दाखिल कर कहा स्वत: संज्ञान वाले मामले में कोई कार्रवाई नहीं करेंगे-विधायक दल के नेता के मान्यता का मामला...

दलबदल मामला: झारखंड हाई कोर्ट ने स्पीकर से मांगा जवाब, कल होगी सुनवाई

दल-बदल से जुड़े बाबूलाल मरांडी की याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत...

दलबदल मामला: सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड स्पीकर की याचिका खारिज की, कहा हाईकोर्ट वापस जाए

दलबदल मामले में झारखंड विधानसभा अध्यक्ष की ओर से दाखिल एसएलपी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट के चीफ...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, सीएम बेअंत सिंह के हत्यारे राजोआना की मौत की सजा को बदलने पर 26 जनवरी तक विचार करे केंद्र सरकार

नयी दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को केंद्र से कहा कि वह पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या मामले में...