रांची। बिहार में चुनावी तपीश बढ़ती जा रही है। इस बीच राजद के लिए सुखद खबर मिलने की उम्मीद है। क्योंकि अगर दुमका वाले मामले में लालू प्रसाद को जमानत मिलती है, तो यह राजद के संजीवनी का काम करेगा। लालू प्रसाद की ओर से जमानत पर जल्द सुनवाई के लिए अर्जेंट मेंशन किया गया है। उनके अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने जमानत पर जल्द सुनवाई के लिए अर्जेंट मेंशन किया है। उम्मीद है कि लालू की जमानत पर छह नवंबर को सुनवाई होगी।

क्योंकि इस दिन अदालत ने लालू की बीमारी व जेल में मिले लोगों की रिपोर्ट तलब की है। लालू के अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने हाईकोर्ट में अर्जेंट मेंशन कर जमानत पर सुनवाई के लिए छह नवंबर की तिथि निर्धारित करने का आग्रह किया है। पिछले दिनों लालू की ओर से दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में जमानत याचिका दाखिल की गई है। इसमें आधी सजा काटने का हवाला देते हुए जमानत की गुहार लगाई गई है।

इसके अलावा किडनी, हृदय रोग सहित 16 तरह की बीमारियों का हवाला दिया गया है। दुमका वाले मामले में लालू प्रसाद नौ नवंबर को आधी सजा पूरी कर रही है। यह संयोग ही है कि उस दिन उनके बेटे तेजस्वी प्रसाद का जन्मदिन है। अगर हाई कोर्ट से जमानत मिलती है, तो इस साल लालू की जमानत की तौर पर तेजस्वी को बहुत ही शानदार बर्थडे गिफ्ट मिल सकता है। हालांकि सीबीआइ की ओर से उनकी जमानत का विरोध किया जाएगा।

क्योंकि सीबीआइ देवघर कोषागार वाले मामले में मिली जमानत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गई है। चाईबासा में भी ऐसा करने की तैयारी है। गौरतलब है कि लालू प्रसाद को चाईबासा के दो, देवघर और दुमका के मामलों में सजा मिल चुकी है। लेकिन चाईबासा के दोनों मामले और देवघर वाले मामले में जमानत मिल चुकी है। वहीं, दुमका कोषागार वाले मामले में लालू ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर जमानत की गुहार लगाई है।