Home high court news विधायक अशोक सिंह हत्याकांड में पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह पर फैसला टला,...

विधायक अशोक सिंह हत्याकांड में पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह पर फैसला टला, 28 अगस्त को कोर्ट सुनाएगी फैसला

रांची। विधायक अशोक सिंह हत्याकांड में आजीवन कारावास की सजा पाए पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह, उनके भाई दीनानाथ सिंह व रितेश सिंह के मामले में अगले सप्ताह (28 अगस्त) को हाईकोर्ट अपना फैसला सुनाएगी। तकनीकी कारणों से आज इस मामले में फैसला नहीं सुनाया जा सका। अशोक सिंह हत्याकांड में हजारीबाग कोर्ट ने मार्च 2017 में प्रभुनाथ सिंह व उनके भाईयों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। कुछ दिनों पूर्व अदालत ने प्रभुनाथ सिंह की अपील पर सुनवाई के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।

हाईकोर्ट के जस्टिस एके गुप्ता व जस्टिस राजेश कुमार की अदालत में यह मामला सूचीबद्ध था, लेकिन तकनीकी कारणों से यह फैसला अगले सप्ताह तक टल गया। बिहार के मशरख के तत्कालीन विधायक अशोक सिंह की हत्या के मामले में प्रभुनाथ सिंह और उनके दो भाईयों को निचली अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनायी है। सजा के खिलाफ तीनों ने हाईकोर्ट में अपील दाखिल की है। इससे पहले उक्त मामले में तकनीकी परेशानियों की वजह से दो बार फैसला टाल दिया गया था।

मार्च 1995 में विधायक अशोक सिंह की सरकारी आवास पर बम मारकर हत्या कर दी गई जब वह अपने आवास पर लोगों से मिल रहे थे। इस मामले में उनकी पत्नी चांदनी देवी ने पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह व उनके भाईयों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई। कहा गया कि राजनीतिक प्रतिद्वंदिता के चलते विधायक की हत्या की गई है। क्योंकि प्रभुनाथ सिंह को हराकर अशोक सिंह विधायक बने थे। इस मामले को उनकी पत्नी चांदनी देवी के आग्रह पर सुप्रीम कोर्ट ने हजारीबाग ट्रांसफर किया गया था। निचली अदालत ने इस मामले में तीनों को मार्च 2017 को सजा सुनाई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- हाथरथ मामले की सीबीआई जांच की निगरानी करेगा इलाहाबाद हाईकोर्ट

दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले की एक दलित लड़की के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और फिर...

हाईकोर्ट ने सांसदों और विधायकों के खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों की मांगी सूची

जबलपुर। मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने राज्य में पूर्व और मौजूदा सांसदों व विधायकों के खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों की सूची मांगी है।...

झारखंड के कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले में पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे को तीन साल की सजा

दिल्ली। दिल्ली स्थित सीबीआई की विशेष अदालत ने पूर्व केंद्रीय मंत्री दिलीप रे को झारखंड के कोयला ब्लॉक के आवंटन में घोटाला...

केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल को राहत, सीएम आवास का किराया भुगतान नहीं करने पर चल रही अवमानना की कार्यवाही पर सुप्रीम कोर्ट की रोक

दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बंगलों के लिए पूर्व मुख्यमंत्रियों द्वारा किराए का भुगतान न करने के मामले में केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल...

Recent Comments