हाईकोर्ट ने धनबाद के बर्खास्त शिक्षकों को फिर से बहाल करने का दिया आदेश

रांची। झारखंड हाईकोर्ट ने सेवा से बर्खास्त शिक्षकों को फिर से बहाल करने का आदेश दिया है। जस्टिस एसके द्विवेदी की अदालत ने सरकार के उस आदेश को निरस्त कर दिया, जिसमें शिक्षकों को डिग्री के आधार पर बर्खास्त करने का निर्देश दिया था। अदालत ने सरकार के बर्खास्त करने के आदेश को निरस्त करते हुए शिक्षकों को बहाल करने का आदेश दिया है। अदालत ने अपने आदेश में कहा है कि इनकी बर्खास्त होने वाली अवधि को भी सेवा में माना जाएगा।

इससे पहले सुनवाई के दौरान प्रार्थियों की ओर से अधिवक्ता विनोद सिंह ने अदालत को बताया कि धनबाद जिले के निरसा के माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक प्रेमलाल हेम्ब्रम और सुरेंद्र मुंडा को सरकार ने सात अक्टूबर 2016 को यह कहते हुए बर्खास्त कर दिया कि इन्होंने जहां से स्नातक की डिग्री प्राप्त की है। उस संस्थान की मान्यता रद कर दी गई है। इसलिए इन्हें बर्खास्त किया जाता है। इसके अलावा इंटरमीडिएट में इन्हें 40 फीसदी से कम अंक मिले हैं।

अधिवक्ता विनोद सिंह ने अदालत को बताया कि इन लोगों ने देवघर हिंदी विद्यापीठ से स्नातक की डिग्री 2012 में प्राप्त की थी। लेकिन झारखंड सरकार ने इस संस्थान की मान्यता वर्ष 2014 में समाप्त की है। ऐसे में सरकार अपने आदेश को पिछे से लागू नहीं कर सकती है। जैक के प्रमाण पत्र में इन्हें 40 फीसदी से ज्यादा अंक मिले है। वहीं, सरकार ने इनको खिलाफ बिना विभागीय कार्रवाई किए ही बर्खास्त करने का आदेश दिया है, जो कि सही नहीं है।

इसलिए इनकी सेवा बहाल की जाए। हालांकि इस दौरान सरकार की ओर से प्रार्थियों की दलील का विरोध किया गया। लेकिन अदालत ने सरकार के आदेश को निरस्त करते हुए दोनों शिक्षकों को बहाल करने का आदेश दिया है। गौरतलब है कि शिक्षक प्रेमलाल हेम्ब्रम और सुरेंद्र मुंडा ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर सरकार के आदेश को चुनौती दी थी।

Most Popular

दल-बदल और बाबूलाल मरांडी को विधायक दल का नेता बनाने के मामले में सुनवाई 19 जनवरी को

-स्पीकर ने शपथपत्र दाखिल कर कहा स्वत: संज्ञान वाले मामले में कोई कार्रवाई नहीं करेंगे-विधायक दल के नेता के मान्यता का मामला...

दलबदल मामला: झारखंड हाई कोर्ट ने स्पीकर से मांगा जवाब, कल होगी सुनवाई

दल-बदल से जुड़े बाबूलाल मरांडी की याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत...

दलबदल मामला: सुप्रीम कोर्ट ने झारखंड स्पीकर की याचिका खारिज की, कहा हाईकोर्ट वापस जाए

दलबदल मामले में झारखंड विधानसभा अध्यक्ष की ओर से दाखिल एसएलपी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट के चीफ...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, सीएम बेअंत सिंह के हत्यारे राजोआना की मौत की सजा को बदलने पर 26 जनवरी तक विचार करे केंद्र सरकार

नयी दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को केंद्र से कहा कि वह पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या मामले में...