आवास आवंटन मामलाः विधायक नवीन जायसवाल के मामले में टली सुनवाई

झारखंड के विधायक नवीन जायसवाल के आवास खाली करने के एकलपीठ के आदेश के खिलाफ दाखिल याचिका पर सुनवाई टल गई। बधुवार को राज्य सरकार की ओर से अदालत में जवाब दाखिल किया गया है। सरकार के शपथ पत्र में कहा गया है कि विधायक नवीन जायसवाल जिस आवास में रह रहे हैं, उसे मंत्री को आवंटित किया गया है। अभी तक 14 विधायकों को एफ टाइप आवास आवंटित हुए हैं।

सरकार की ओर से मंत्रियों और विधायकों को आवंटित आवास की सूची हाईकोर्ट को सौंपी गई है। गौरतलब है कि एकलपीठ ने नवीन जायसवाल को दो सप्ताह में आवास खाली करने का आदेश दिया था। साथ ही अदालत ने राज्य सरकार को राज्य के मंत्रियों और विधायकों को आवास आवंटित करने के लिए एक नीति बनाने का निर्देश दिया था, ताकि भविष्य में आवास आवंटन में पारदर्शिता हो।

नवीन जायसवाल की ओर से आवास खाली करने के आदेश को खंडपीठ में चुनौती दी गई है। याचिका में कहा गया है कि उनके कनीय विधायकों को एफ टाइप आवास आवंटित कर दिया गया है जबकि उन्हें इसी तरह के आवास को खाली करने को कहा जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि सरकार ने राजनीति से प्रेरित होकर ऐसा कार्य किया है।

Most Popular

दारोगा बहालीः पीटी परीक्षा में आरक्षण की मांग वाली याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत में दारोगा नियुक्ति की प्रारंभिक परीक्षा...

सड़क निर्माण के लिए पेड़ काटने जाने पर हाईकोर्ट ने सरकार से मांगा जवाब

Ranchi: मझियांव- कांडी सड़क निर्माण के लिए पेड़ों की गलत तरीके से हो रही कटाई को लेकर दायर जनहित याचिका पर सुनवाई...

खूंटी में मनरेगा में गड़बड़ी मामले में राज्य सरकार से हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

Ranchi: खूंटी जिले में मनरेगा की योजनाओं में हुई गड़बड़ी की जांच के लिए दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए झारखंड...

खाद्य पदार्थ में मिलावट पर सुप्रीम कोर्ट ने आरोपियों के वकील से पूछा- क्‍या मिलावटी गेहूं खाएंगे..!

New Delhi: food adulteration सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने खाद्य पदार्थ में मिलावट के एक मामले में आरोपी मध्य प्रदेश के दो...