झारखंड के पूर्व मंत्री योगेंद्र साव के मामले में हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से मांगा जवाब

रांची। एनटीपीसी (NTPC) के खिलाफ बड़कागांव में सत्याग्रह आंदोलन में आरोपी बनाए गए पूर्व मंत्री योगेंद्र साव की याचिका पर सुनवाई करते हुए झारखंड हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब मांगा है। योगेंद्र साव की ओर से निचली अदालत के उस आदेश को हाई कोर्ट में चुनौती दी गई, जिसके तहत अदालत ने 22 अतिरिक्त गवाहों की गवाही करने के अभियोजन के आवेदन को स्वीकार कर लिया। इसी आदेश के खिलाफ योगेंद्र साव ने हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की है।
सुनवाई के दौरान अदालत को बताया गया कि इस मामले में पहले ही सभी 18 गवाही पूरी होने वाली थी, तभी अभियोजन की ओर से अतिरिक्त 22 अन्य गवाहों की सूची अदालत को सौंपते हुए उसे स्वीकार करने की गुहार लगाई गई, जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया। कहा गया कि इस मामले में नए गवाहों को नहीं जोड़ा जा सकता है। सुनवाई के बाद जस्टिस आनंद सेन की अदालत ने राज्य सरकार को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।

ज्ञात हो कि बड़कागांव में एनटीपीसी (NTPC) के खिलाफ पूर्व मंत्री योगेंद्र साव के नेतृत्व में सत्याग्रह आंदोलन चलाया गया। इसी मामले में पुलिस ने इनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है।

Most Popular

Lalu Yadav Health Update: बेहतर इलाज के लिए लालू प्रसाद भेजे जा सकते हैं दिल्ली एम्स

रांचीः Lalu Prasad Yadav Health Update बेहतर इलाज के लिए लालू प्रसाद यादव को रिम्स (RIMS) से दिल्ली स्थित (Delhi AIIMS) एम्स...

Lalu Yadav News: लालू के जेल मैनुअल उल्लंघन मामले में हाईकोर्ट ने गृह विभाग से मांगा जवाब

रांचीः Lalu Prasad Yadav चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे लालू प्रसाद के जेल मैनुअल उल्लंघन मामले में अब पांच फरवरी...

सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी अनामिका गौतम की जमीन खरीद मामले में सरकार से मांगा जवाब

झारखंड हाईकोर्ट ने भाजपा सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी अनामिक गौतम की याचिका पर सुनवाई करते हुए सरकार को यह बताने का...

चार करोड़ के घोटाले के आरोपी बैंककर्मी को झारखंड हाईकोर्ट से मिली जमानत

रांची। झारखंड को- अपरेटिव बैंक लिमिटेड, सरायकेला के चार करोड़ के घोटाले में आरोपी की जमानत याचिका पर झारखंड हाई कोर्ट में...