Alkatra Scam: पेरोल मिलने के बाद भी पूर्व मंत्री इलियास हुसैन नहीं निकल पाए जेल से, जानिए पूरा मामला

रांची। अलकतरा घोटला मामले में सजायाफ्ता संयुक्त बिहार के पूर्व मंत्री इलियास हुसैन को दो महीन की पेरोल तो मिल गई है, लेकिन अलकतरा घोटाले से जुड़े एक अन्य मामले में सजा मिलने के कारण अभी तक जेल से बाहर नहीं निकल पाए हैं। झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस एके चौधरी की अदालत में सजायाफ्ता पूर्व मंत्री इलियास हुसैन की अपील पर सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान इलियास हुसैन की ओर से उनकी पत्नी के इंतेकाल का हवाला देते हुए प्रोविजनल बेल देने के गुहार लगाई गई।

इस पर अदालत ने कहा कि इसके लिए उन्हें अदालत में प्रोविजनल बेल की मांग करते हुए आइए याचिका दाखिल करनी होगी, क्योंकि कोर्ट में कोई ऐसा आवेदन नहीं दिया गया है। अगर आइए नहीं दाखिल करते हैं, तो फिर अपील पर अंतिम बहस सुनी जाएगी। इस पर प्रार्थी की ओर से समय दिए जाने की मांग की गई जिसे अदालत ने स्वीकार करते हुए मामले में 29 सितंबर की तिथि निर्धारित की है। सुनवाई के दौरान इलियास हुसैन के अधिवक्ता ने अदालत को बताया कि दस सितंबर को उनकी पत्नी का इंतेकाल हो गया है।

अलकतरा घोटाले से जुड़े एक अन्य मामले में हाई कोर्ट से उन्हें पैरोल मिल गई है। ऐसे में इस मामले में भी उन्हें जमानत की सुविधा प्रदान की जाए ताकि वे पत्नी के अंतिम संस्कार में शामिल हो सके। इस पर अदालत ने कहा कि उनकी याचिका में इससे संबंधित कोई मांग नहीं की गई है। इसलिए प्रोविजनल बेल के लिए उन्हें अदालत में आइए याचिका दाखिल करनी होगी। इस पर प्रार्थी की आइए दाखिल करने की बात कहते हुए अदालत से समय मांगा गया। गौरतलब है इस मामले में सीबीआइ की अदालत में सितंबर 2018 में इलियास हुसैन को चार साल की सजा सुनाई है। इस मामले में सरकार को 18 लाख रुपये के राजस्व के नुकसान का आरोप है।

इसे भी पढ़ेंः Teachers Transfers: 225 शिक्षकों का तबादला सही, तत्कालीन शिक्षा मंत्री का आदेश निरस्त

Most Popular

झारखंड हाई कोर्ट से लालू यादव को मिली जमानत, जल्द आएंगे बाहर

Ranchi: Lalu Yadav bail चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे लालू यादव को झारखंड हाई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है।...

सोना तस्करीः केरल हाईकोर्ट ने तस्करी मामले में ईडी अधिकारियों के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी खारिज की

Kerala: केरल उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को राज्य सरकार को झटका देते हुए राज्य पुलिस द्वारा प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के खिलाफ...

कोरोना की चपेट में कई सरकारी अधिवक्ता, महाधिवक्ता ने चीफ जस्टिस को पत्र लिखकर सख्त आदेश न देने की लगाई गुहार

Ranchi: झारखंड में कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है। इससे झारखंड हाई कोर्ट और वहां पक्ष रखने वाले अधिवक्ता भी...

कोरोना संक्रमण पर बार काउंसिल का आदेश, फिजिकल कोर्ट की सुनवाई में शामिल न हों वकील

Ranchi: Jharkhand State bar Council झारखंड स्टेट बार काउंसिल ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य के सभी जिलों के...