राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का हाईकोर्ट में लड़ा जाएगा मुफ्त में मुकदमा

रांची। अगर आप आर्थिक रूप से कमजोर हैं और आपको झारखंड हाईकोर्ट में मुकदमा करना है, तो न तो आपको हाईकोर्ट आना होगा और न ही इसके लिए डालसा या झालसा में आवेदन देना होगा। लोगों को उनके घर से मुकदमा दाखिल करने या मुफ्त में कानूनी सहायता प्राप्त करने के लिए हाईकोर्ट ने विधिक सेवा पोर्टल की शुरूआत की है। इसके लिए बस आपको विधिक सेवा पोर्टल की साइट पर जाकर आवेदन भरना होगा।

इसके लिए आप अपने नजदीकी प्रज्ञा केंद्र में जाकर भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके बाद हाई कोर्ट में फ्री में मुकदमा दाखिल होगा। दरअसल, राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मुफ्त कानूनी सहायता देने के लिए झारखंड हाईकोर्ट लीगल सर्विस कमेटी ने विधिक सेवा पोर्टल शुरू किया है। आपके पास स्मार्ट फोन है, तो वेबसाइट से आवेदन दाखिल कर सकते हैं या फिर किसी भी नजदीकी प्रज्ञा केंद्र से आवेदन दाखिल कर सकते हैं।

विधिक सेवा पोर्टल की वेबसाइट पर जाकर अपने मोबाइल को रजिस्टर करते हुए पासवर्ड बनाएं। यहां पर जो आवेदक है उसका फोटो, आधार कार्ड, जाति प्रमाण पत्र और आय प्रमाण पत्र अपलोड करना है। इसके बाद आवेदन हाईकोर्ट लीगल सर्विस कमेटी के पास मेल से जाएगा और वहां आपको तुरंत मुफ्त में अधिवक्ता मिल जाएगा।
इस योजना के तहत 18 साल से कम उम्र का किशोर, महिला, कैदी, एससी-एसटी, मानसिक एवं शारीरिक रूप से से दिव्यांग, औद्योगिक कर्मकार, आपदा से पीड़ित या जिनकी तीन लाख रुपये से कम आय वाले को का लाभ मिलेगा।

Most Popular

गुमला में टांगी से काटकर 5 की हत्या पर हाईकोर्ट ने कहा- घटना पूरे सिस्टम पर उठा रही सवाल, मुख्य सचिव व DGP से...

रांचीः झारखंड के (Gumla) गुमला जिले में एक ही परिवार के पांच लोगों की टांगी से काटकर हत्या के मामले में झारखंड...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- पत्नी पति की गुलाम नहीं, साथ रहने को नहीं कर सकते मजबूर

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि पत्नी अपने पति की गुलाम या विरासत नहीं होती...

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सरकार के विचार से असहमति वाली राय देशद्रोह नहीं

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर में...

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश पलटते हुए कहा- सरकारी सेवाओं के भर्ती प्रक्रिया में लोगों का विश्वास होना चाहिए

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सरकारी सेवाओं के लिए भर्ती प्रक्रिया में लोगों का विश्वास होना चाहिए। अदालत ने कहा...