स्वामी विवेकानंद लेक की सफाई को लेकर रांची नगर निगम से मांगा जवाब

रांची। झारखंड हाई कोर्ट के ने रांची के स्वामी विवेकानंद लेक (बड़ा तालाब) को लेकर दाखिल जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए रांची नगर निगम को दो सप्ताह में जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। हालांकि सुनवाई के दौरान रांची नगर निगम की ओर से अदातल से समय दिए जाने का आग्रह किया गया, जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया और मामले की सुनवाई स्थगित कर दी।

सुनवाई के दौरान जब नगर निगम के अधिवक्ता ने इस मामले में जवाब दाखिल करने के लिए समय देने की मांग की, तो अदालत ने कहा कि पूर्व में अदालत ने आपको समय दिया था, लेकिन आपकी ओर जवाब दाखिल नहीं किया गया है। इस पर अधिवक्ता ने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते कार्यालय में लोग कम आ रहे हैं और इसी बीच रांची नगर निगम के नगर आयुक्त का तबादला हो गया। इस वजह से जवाब दाखिल करने में देरी हुई है।

गौरतलब है कि इस मामले में हाई कोर्ट की अधिवक्ता खुशबू कटारूका ने जनहित याचिका दाखिल की है। याचिका में आरोप लगाया है कि बड़ा तालाब में आस-पास के सीवरेज का पानी आता है। सौंदर्यीकरण के नाम पर इसे चारो ओर से कंकरीट का बना दिया गया है। कुछ जगहों पर बड़े वाहन पार्क किए जाते हैं और उनकी धुलाई भी होती है, इसका सारा कचरा तालाब में ही जाता है। इसके चलते तालाब की हालात खराब हो रही है।

Most Popular

आक्सीजन व दवाओं के हाहाकार पर सुप्रीम कोर्ट की चिंता, कहा- इमरजेंसी जैसे हालात

New Delhi: कोरोना संक्रमण के बीच लोगों को ऑक्सीजन और दवाइयों नहीं मिलने पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई है। सुप्रीम...

दिल्ली हाई कोर्ट ने गोपनीयता नीति की जांच के खिलाफ दाखिल व्हाट्सऐप व फेसबुक की याचिका खारिज की

New Delhi: दिल्ली हाई कोर्ट ने व्हाट्स ऐप की नई गोपनीयता नीति की जांच करने के भारत के प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के...

स्वास्थ्य सचिव कोरोना संक्रमित, जवाब दाखिल करने के लिए हाईकोर्ट से मांगा समय

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत में गुरुवार को कोरोना संक्रमण से निपटने...

Corona Good News: झालसा ने हर जिले में बनाया वार रूम, फ्री में मिलेंगी दवाएं और चिकित्सकीय सलाह

Ranchi: कार्यकारी अध्यक्ष जस्टिस अपरेश कुमार सिंह के निर्देश पर झालसा ने कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण में इलाज को लेकर परेशान...