नक्सली हमलाः माओवादी रामराई हांसदा के आवाज सैंपल के लिए NIA ने कोर्ट से मांगी अनुमति, तीन जवान हुए थे शहीद

Naxalite attack NIA Investigation एक नक्सली हमले की जांच के लिए एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) नक्सली रामराई हांसदा के आवाज का सैंपल लेगी।

302
Nation Investigation Agency


Ranchi: Naxalite attack NIA Investigation एक नक्सली हमले की जांच के लिए एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) नक्सली रामराई हांसदा के आवाज का सैंपल लेगी। इसके लिए एनआईए के विशेष कोर्ट में आवेदन देकर एनआई ने नक्लसी रामराई हांसदा के आवाज के सैंपल लेने की अनुमति मांगी है। फिलहाल इस मामले की जांच एनआइए कर रही है।

दरअसल, चाईबासा जिले के टोकलो थाना क्षेत्र के लांजी गांव स्थित पहाड़ी के क्षेत्र में चार मार्च 2021 को डायरेक्शनल लैंडमाइन विस्फोट में झारखंड जगुआर के तीन जवान शहीद हो गए थे। घटना के बाद टोकलो थाना में मामला दर्ज किया गया। इसके बाद एनआईए ने इस मामले को टेकओवर कर जांच कर रही है।

इसे भी पढ़ेंः प्रोन्नतिः अधिसूचना जारी नहीं करने पर हाईकोर्ट ने मुख्य सचिव से मांगा जवाब, एडिशनल कलेक्टर के पद पर होनी है प्रोन्नति

इसलिए एनआईए नक्सली के आवाज का सैम्पल लेना चाहती है। लांजी गांव में हुए नक्सली हमले के बाद चाईबासा पुलिस ने भाकपा माओवादी के नक्सली रामराई हांसदा, नेल्सन कंडीर, विल्सन सामड़, सीताराम राम सामड़, रोशन बोदरा उर्फ चोंडे बोदरा, सोरटो माहली, सोमनाथ भूमिज, अशोक कुमार महतो, मंगल मुंडा व महादेव मुंडा गिरफ्तार किया था।

पूछताछ में रामराई हांसदा ने बताया कि नक्सली कमांडर अनल दा उर्फ पतिराम मांझी और महाराजा प्रमाणिक के कहने पर उसने अपने सहयोगियों के साथ पुलिस पर हमले के लिए डायरेक्शनल लैंडमाइन सड़क में लगाया था। जब पुलिस के जवान लैंडमाइन लगे सड़क से गुजर रहे थे। तभी नक्सलियों ने लैंडमाइंस विस्फोट कर दिया। इस हमले में तीन जवान शाहिद हो गए थे। इसी मामले की जांच में एनआईए नक्सली रामराई हांसदा के आवाज का सैंपल लेने के लिए आवेदन दिया है।