चारा घोटालाः लालू यादव ने सीबीआई कोर्ट से कहा- फिजिकल कोर्ट में करेंगे बहस

Lalu Prasad News: चारा घोटाल के सबसे बड़े मामले में लालू प्रसाद यादव फिजिकल कोर्ट में सुनवाई चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने सीबीआई की विशेष अदालत में एक आवेदन देकर इसकी मांग की है।

308
chara ghotala lalu prasad filed bail in jharkhand high court

Ranchi: चारा घोटाल के सबसे बड़े मामले में लालू प्रसाद यादव फिजिकल कोर्ट में सुनवाई चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने सीबीआई की विशेष अदालत में एक आवेदन देकर इसकी मांग की है। लालू के साथ इस मामले में सभी अभियुक्तों ने फिजिकल सुनवाई के दौरान ही बहस करने को कहा है।

दरअसल, डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ की अवैध निकासी से जुड़े चारा घोटाले के सबसे बड़े मामले में बचाव पक्ष की ओर से बहस शुरू होनी है। लेकिन बचाव फिजिकल कोर्ट में ही बहस शुरू करना चाहता है।

सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एसके शशि की अदालत में चारा घोटाला (आरसी 47ए/96) में ट्रायल का सामना कर रहे 112 अभियुक्तों की ओर से उनके अधिवक्ताओं ने आवेदन दिया। सभी ने अपने आवेदन में कहा है कि फिजिकल कोर्ट में ही सुनवाई बेहतर होगी।

इसे भी पढ़ेंः हाईकोर्ट ने कहा- आपराधिक मामले में मिली सजा ही बर्खास्त होने के लिए काफी

आवेदन देने वालों में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद, पूर्व सांसद जगदीश शर्मा, डॉ. आरके राणा, लोक लेखा समिति के तत्कालीन अध्यक्ष ध्रुव भगत, पशुपालन विभाग के तत्कालीन क्षेत्रीय निदेशक डॉ. केएन झा, सहायक निदेशक डॉ. केएम प्रसाद एवं अन्य के अर्जी शामिल है।

सीबीआई के विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने बताया कि बचाव पक्ष ने अर्जी डालते हुए कहा कि फिजिकल कोर्ट प्रारंभ होने पर बहस शुरू करेंगे। ऑनलाइन कोर्ट में बहस शुरू करने में परेशानी होगी। अदालत ने बचाव पक्ष के आवेदन पर अभियोजन को जवाब दायर करने का निर्देश दिया।

अब इस मामले की अगली सुनवाई की तिथि 11 अगस्त निर्धारित की गयी। इधर, लालू प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने कहा कि इस मामले में 550 गवाही और साढ़े चार हजार से ज्यादा दस्तावेज हैं, जिन्हें ऑनलाइन कोर्ट में पेश करना उचित नहीं है।

इसलिए कोर्ट से आग्रह किया गया है कि फिजिकल कोर्ट खुलने के बाद ही उन लोगों की ओर से बहस प्रारंभ की जाएगी। बता दें कि सात अगस्त को अभियोजन पक्ष की जारी बहस पूरी होने के बाद अब मामले में बचाव पक्ष को बहस शुरू करनी है।