अधिवक्ता प्रकाश यादव की हत्या के विरोध में झारखंड के अधिवक्ता 23 जुलाई को न्यायिक कार्य से रहेंगे दूर

झारखंड स्टेट बार काउंसिल ने जमशेदपुर के अधिवक्ता प्रकाश यादव की नृशंस हत्या को गंभीरता से लिया है। काउंसिल ने इस घटना के विरोध में में 23 जुलाई को पूरे राज्य में न्यायिक कार्य मे हिस्सा न लेने का निर्णय लिया है। इसके लिए काउंसिल की ओर से सभी जिला बार संघ को पत्र भी निर्गत किया गया है।

इसमें 23 जुलाई को एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग को लेकर न्यायिक कार्य से दूर रहने के निर्णय से अवगत कराया गया है।

झारखंड स्टेट बार काउंसिल के वाईस चेयरमैन अधिवक्ता राजेश कुमार शुक्ल ने बताया है कि काउंसिल ने झारखंड में एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट अब तक लागू नही करने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए बिना विलंब के इसे लागू करने की मांग किया है।

काउंसिल की ओर से राज्य सरकार से प्रकाश यादव के परिजनों को एक करोड़ रुपया मुआवजा देने की भी मांग की गई है।

गौरतलब है कि मंगलवार की देर रात अधिवक्ता प्रकाश यादव की जमशेदपुर के बिरसानगर में गला रेत कर निर्मम हत्या कर दी गई। इस घटना के बाद से अधिवक्ताओं में रोष है।

Most Popular

झारखंड हाई कोर्ट से लालू यादव को मिली जमानत, जल्द आएंगे बाहर

Ranchi: Lalu Yadav bail चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे लालू यादव को झारखंड हाई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है।...

सोना तस्करीः केरल हाईकोर्ट ने तस्करी मामले में ईडी अधिकारियों के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी खारिज की

Kerala: केरल उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को राज्य सरकार को झटका देते हुए राज्य पुलिस द्वारा प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के खिलाफ...

कोरोना की चपेट में कई सरकारी अधिवक्ता, महाधिवक्ता ने चीफ जस्टिस को पत्र लिखकर सख्त आदेश न देने की लगाई गुहार

Ranchi: झारखंड में कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है। इससे झारखंड हाई कोर्ट और वहां पक्ष रखने वाले अधिवक्ता भी...

कोरोना संक्रमण पर बार काउंसिल का आदेश, फिजिकल कोर्ट की सुनवाई में शामिल न हों वकील

Ranchi: Jharkhand State bar Council झारखंड स्टेट बार काउंसिल ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य के सभी जिलों के...