CoronaUpdate: छह मार्च तक रांची सिविल कोर्ट में फिजिकल सुनवाई पर रोक

छह मार्च तक सिर्फ वर्चुअल सुनवाई ही होगी। इसकी सूचना जिला बार संघ को दे दी गयी है। वकीलों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए फिलहाल फिजिकल सुनवाई पर रोक लगायी गयी है।

रांची सिविल कोर्ट के करीब एक दर्जन अधिवक्ताओं के कोरोना संक्रमित होने के बाद दो मार्च से सिविल कोर्ट में फिजिकल सुनवाई नहीं होगी। न्यायायुक्त ने इसका आदेश जारी कर दिया है।

छह मार्च तक सिर्फ वर्चुअल सुनवाई ही होगी। इसकी सूचना जिला बार संघ को दे दी गयी है। वकीलों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए फिलहाल फिजिकल सुनवाई पर रोक लगायी गयी है।

पिछले दिनों करीब एक दर्जन वकील कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद एसोसिएशन ने बार भवन को बंद कर दिया है और इसमें किसी के प्रवेश की इजाजत नहीं दी गयी है।

इसे भी पढ़ेंः Covid Vaccine: झारखंड हाईकोर्ट के जजों ने लगवाया कोरोना वैक्सीन

बार भवन को सेनेटाइज किया जा रहा है। जिला बार एसोसिएशन प्रधान न्यायायुक्त को पत्र लिख कर कहा था कि वकील कोरोना संक्रमित हो गए हैं।

ऐसे में यदि कोई वकील कोर्ट में उपस्थित नहीं सके तो कोई प्रतिकूल आदेश जारी नहीं किया जाए। इस पत्र के आलोक में छह मार्च तक फिजिकल सुनवाई पर रोक लगा दी गयी है।

Most Popular

आक्सीजन व दवाओं के हाहाकार पर सुप्रीम कोर्ट की चिंता, कहा- इमरजेंसी जैसे हालात

New Delhi: कोरोना संक्रमण के बीच लोगों को ऑक्सीजन और दवाइयों नहीं मिलने पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई है। सुप्रीम...

दिल्ली हाई कोर्ट ने गोपनीयता नीति की जांच के खिलाफ दाखिल व्हाट्सऐप व फेसबुक की याचिका खारिज की

New Delhi: दिल्ली हाई कोर्ट ने व्हाट्स ऐप की नई गोपनीयता नीति की जांच करने के भारत के प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के...

स्वास्थ्य सचिव कोरोना संक्रमित, जवाब दाखिल करने के लिए हाईकोर्ट से मांगा समय

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत में गुरुवार को कोरोना संक्रमण से निपटने...

Corona Good News: झालसा ने हर जिले में बनाया वार रूम, फ्री में मिलेंगी दवाएं और चिकित्सकीय सलाह

Ranchi: कार्यकारी अध्यक्ष जस्टिस अपरेश कुमार सिंह के निर्देश पर झालसा ने कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण में इलाज को लेकर परेशान...