processApi - method not exist
Home Civil Court News दहेज उत्पीड़न में पूर्व डीजीपी डीके पांडेय, पत्नी व बेटे का मामला...

दहेज उत्पीड़न में पूर्व डीजीपी डीके पांडेय, पत्नी व बेटे का मामला भेजा गया मध्यस्थता केंद्र, समझौते पर होगी सुनवाई

रांची। रांची फैमिली कोर्ट में दहेज उत्पीड़न के मामले में झारखंड के पूर्व डीजीपी डीके पांडे, उनकी पत्नी पूनम पांडेय और बेटा शुभांकर की अग्रिम जमानत पर सुनवाई हुई। इस दौरान

अदालत ने दोनों पक्षों को समझौते के लिए मामले को मध्यस्थता केंद्र भेजने का निर्देश दिया। अदालत ने तब तक डीके पांडेय सहित अन्य की अग्रिम जमानत पर सुनवाई टाल दी है।

इस दौरान दोनों पक्ष मध्यस्थता केंद्र में सुनवाई के लिए राजी थी, जिसके बाद कोर्ट ने इस मामले को जिला विधिक सेवा प्राधिकार, रांची को यहां भेजने का निर्देश दिया।

इसे भी पढ़ेंः जनसंख्या नियंत्रण मामले में सुप्रीम कोर्ट में चार सप्ताह में अपना जवाब दाखिल करेगी केंद्र सरकार


इस मामले में अपर लोक अभियोजक अशोक कुमार राय ने बताया कि यह मामला दहेज प्रताड़ना से जुड़ा है। इसलिए कोर्ट ने इस मामले को मध्यस्था के जरिए सुलझाने के लिए मध्यस्थता केंद्र भेज दिया है।

जहां पर 28 जुलाई को इस मामले में सुनवाई होगी। यहां पर जो भी निर्णय होगा, उसके बाद अदालत पूर्व डीजीपी व अन्य की जमानत याचिका पर 3 अगस्त को सुनवाई करेगी।

गौरतलब है कि पूर्व डीजीपी डीके पांडे की बहू रेखा मिश्रा ने रांची महिला थाना में अपने ससुर, सास और पति खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। इसमें दहेज प्रताड़ना सहित कई आरोप लगाए गए हैं।

इसी मामले में पूर्व डीजीपी डीके पांडेय, उनकी पत्नी पूनम पांडेय और बेटा शुभांकर पांडेय ने सिविल कोर्ट में याचिका दाखिल कर अग्रिम जमानत की गुहार लगाई है।

RELATED ARTICLES

ईडी को ललकारने वाले सीएम हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से छह दिन होगी पूछताछ

अवैध खनन और टेंडर मैनेज करने से जुड़े मनी लाउंड्रिंग मामले में गिरफ्तार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के बरहेट विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा...

जांच अधिकारी ने नहीं दी गवाही, पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और पूर्व विधायक निर्मला देवी साक्ष्य के अभाव में बरी

पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और उनकी पत्नी पूर्व विधायक निर्मला देवी समेत चार आरोपी को अदालत ने पर्याप्त साक्ष्य के अभाव में...

Convicted: दोस्त पर भरोसा कर पत्नी को घर पहुंचाने को कहा, लेकिन दोस्त ने पिस्टल की नोक पर किया दुष्कर्म; अदालत ने माना दोषी

Ranchi: Convicted: अपर न्यायायुक्त दिनेश राय की अदालत में अपने ही दोस्त की पत्नी का अपहरण कर पिस्टल का भय दिखाकर दुष्कर्म...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

जेएसएससी नियुक्ति में राज्य के संस्थान से 10वीं व 12वीं की परीक्षा पास होने की अनिवार्य शर्त पर झारखंड सरकार कायम

झारखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डा रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की खंडपीठ में जेपीएससी परीक्षा नियुक्ति में दसवीं और...

ईडी को ललकारने वाले सीएम हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से छह दिन होगी पूछताछ

अवैध खनन और टेंडर मैनेज करने से जुड़े मनी लाउंड्रिंग मामले में गिरफ्तार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के बरहेट विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा...

6th JPSC Exam: सुप्रीम कोर्ट में बोली झारखंड सरकार, नौकरी से निकाले गए 60 को नहीं कर सकते समायोजित

6th JPSC Exam: छठी जेपीएससी नियुक्ति को लेकर झारखंड हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दाखिल एसएलपी पर सुनवाई...

जांच अधिकारी ने नहीं दी गवाही, पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और पूर्व विधायक निर्मला देवी साक्ष्य के अभाव में बरी

पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और उनकी पत्नी पूर्व विधायक निर्मला देवी समेत चार आरोपी को अदालत ने पर्याप्त साक्ष्य के अभाव में...