जस्टिस एनवी रमना होंगे सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश, CJI बोबड़े ने केंद्र को भेजी सिफारिश

जस्टिस एनवी रमना भारत के देश के अगले प्रधान न्यायाधीश हो सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान प्रधान न्यायाधीश एसए बोबडे ने देश के 48वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में जस्टिस एनवी रमना का नाम केंद्र को सुझाया है।

नई दिल्लीः जस्टिस एनवी रमना भारत के देश के अगले प्रधान न्यायाधीश हो सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट के वर्तमान प्रधान न्यायाधीश एसए बोबडे ने देश के 48वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में जस्टिस एनवी रमना का नाम केंद्र को सुझाया है। जस्टिस बोबडे का कार्यकाल 23 अप्रैल को समाप्त हो जायेगा। इसलिए यदि सरकार बोबडे की सिफारिश मान लेती है तो 24 अप्रैल को जस्टिस एनवी रमना नये न्यायाधीश के रूप में शपथ ले सकते हैं।

गौरतलब है कि चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) एसए बोबडे के रिटायर होने में एक महीने से भी कम समय बचा है। ऐसे में सरकार ने नये चीफ जस्टिस की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस क्रम में CJI से अपने उत्तराधिकारी के नाम की सिफारिश मांगी गई थी।

इसे भी पढ़ेंः सब इंस्पेक्टर नियुक्ति में मॉडल पेपर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट ने खारिज

इस सिफारिश पर आज एसए बोबडे ने अपने उत्तराधिकारी के तौर पर एनवी रमना के नाम की सिफारिश की है। अगले CJI की नियुक्ति के लिए परंपरा के मुताबिक अपने रिटायरमेंट से करीब महीने भर पहले देश के सेवारत मुख्य न्यायाधीश सुप्रीम कोर्ट में सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश को अपना उत्तराधिकारी बनाए जाने की सिफारिश राष्ट्रपति को एक पत्र भेजकर करते हैं।

बता दें कि आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने हाई कोर्ट में जस्टिस रमना के दखल की शिकायत की थी। लेकिन अगले चीफ जस्टिस के लिए उनके नाम की सिफारिश से ये साफ हो है कि चीफ जस्टिस बोबडे ने शिकायत खारिज कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार न्यायाधीश एनवी रमना का जन्म 27 अगस्त 1957 को आंध्र प्रदेश में कृष्ण जिले के पोन्नवरम गांव में हुआ था। वह पहली बार 10 फरवरी 1983 को वकील बने। आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के स्थायी जज के रूप में एनवी रमना को 27 जून 2000 को नियुक्त किया गया था।

Most Popular

आक्सीजन व दवाओं के हाहाकार पर सुप्रीम कोर्ट की चिंता, कहा- इमरजेंसी जैसे हालात

New Delhi: कोरोना संक्रमण के बीच लोगों को ऑक्सीजन और दवाइयों नहीं मिलने पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई है। सुप्रीम...

दिल्ली हाई कोर्ट ने गोपनीयता नीति की जांच के खिलाफ दाखिल व्हाट्सऐप व फेसबुक की याचिका खारिज की

New Delhi: दिल्ली हाई कोर्ट ने व्हाट्स ऐप की नई गोपनीयता नीति की जांच करने के भारत के प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के...

स्वास्थ्य सचिव कोरोना संक्रमित, जवाब दाखिल करने के लिए हाईकोर्ट से मांगा समय

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत में गुरुवार को कोरोना संक्रमण से निपटने...

Corona Good News: झालसा ने हर जिले में बनाया वार रूम, फ्री में मिलेंगी दवाएं और चिकित्सकीय सलाह

Ranchi: कार्यकारी अध्यक्ष जस्टिस अपरेश कुमार सिंह के निर्देश पर झालसा ने कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण में इलाज को लेकर परेशान...