processApi - method not exist
Home Civil Court News Defamation: मोदी सरनेम पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में सूरत कोर्ट...

Defamation: मोदी सरनेम पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में सूरत कोर्ट में पेश हुए राहुल गांधी

Surat: Defamation Gujarat court summons Rahul Gandhi: कांग्रेसी नेता राहुल गांधी गुजरात के सूरत की एक अदालत के समक्ष पेश हुए। इस दौरान उन्होंने मोदी सरनेम पर आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर उनके खिलाफ दाखिल आपराधिक मानहानि मामले अपना बयान दर्ज कराया। यह तीसरी बार है जब वे 2019 के मामले में अदालत में पेश हुए।

अदालत ने राहुल गांधी को अपना बयान दर्ज करने के लिए 29 अक्टूबर को दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे के बीच पेश होने का निर्देश दिया था। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल दोपहर में सूरत हवाई अड्डे पर उतरे और शहर के अठवालिंस इलाके में स्थित अदालत पहुंचे।

अप्रैल 2019 में की गई विवादित टिप्पणी पर मानहानि मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एएन दवे ने उन्हें तलब किया था। इससे पहले राहुल गांधी 24 जून को कोर्ट में पेश हुए थे। इस दौरान दो गवाहों के बयान दर्ज किए गए गए थे। इससे पहले इस मामले में अक्तूबर 2019 में हुई सुनवाई के दौरान राहुल गंधी ने अदालत में अपना जुर्म स्वीकार करने से इन्कार कर दिया था।  

इसे भी पढ़ेंः Fighting: आईएएस और डीजीएम के बीच मारपीट मामले में 25 नवंबर को सुनवाई
 
राहुल गांधी की ओर से चुनाव प्रचार के दौरान मोदी सरनेम वालों को चोर कहकर संबोधित करने वाली आप्पतिजनक टिप्प्णी पर गुजरात में भाजपा विधायक पुरनेश मोदी द्वारा मामला दर्ज कराया गया था। इस मामले में पहले भी कई बार सुनवाई हो चुकी है। पुरनेश मोदी वर्तमान में गुजरात सरकार में मंत्री हैं।

भूपेंद्र पटेल सरकार में उनके पास सड़क एवं भवन, परिवहन, नागरिक उड्डयन और पर्यटन तथा तीर्थ विकास विभाग का प्रभार है। दरअसल, कर्नाटक में लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 13 अप्रैल 2019 को विवादित टिप्पणी की थी।

उन्होंने कहा था कि सभी चोरों का सरनेम मोदी ही क्यों होता है? नीरव मोदी, ललित मोदी, नरेंद्र मोदी इन सभी का सरनेम कॉमन क्यों है। इस मामले में कोर्ट ने पिछली सुनवाई में तत्कालीन निर्वाचन अधिकारी और भाषण रिकॉर्ड करने वाले निर्वाचन आयोग के वीडियो रिकॉर्डर के बयान दर्ज करवाए थे।

RELATED ARTICLES

Court News: बेटा होने पर शराब पार्टी के लिए पैसे नहीं देने पर टांगी से काटकर कर दी थी हत्या, तीन को आजीवन कारावास

Ranchi: Court News झारखंड के कोडरमा सिविल कोर्ट ने अमित हत्याकांड फैसला सुनाया है। अदालत ने टांगी से काट कर अमित की...

Scam: कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने कोर्ट में किया सरेंडर

Ranchi: Scam वित्तीय अनियमितता के आरोपी कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने रांची के एसीबी के विशेष अदालत में आत्मसमर्पण...

Mediation: रिश्तों की कड़वाहट खत्म हुई, जब आमने-सामने बैठे पति-पत्नी; अब जीवनभर रहेंगे साथ-साथ

Ranchi: Mediation रांची सिविल कोर्ट के मध्यस्थता केंद्र में विशेष मध्यस्थता अभियान चलाया गया। इस दौरान रिश्तों की कड़वाहट को भुलाकर तीन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Court News: बेटा होने पर शराब पार्टी के लिए पैसे नहीं देने पर टांगी से काटकर कर दी थी हत्या, तीन को आजीवन कारावास

Ranchi: Court News झारखंड के कोडरमा सिविल कोर्ट ने अमित हत्याकांड फैसला सुनाया है। अदालत ने टांगी से काट कर अमित की...

Scam: कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने कोर्ट में किया सरेंडर

Ranchi: Scam वित्तीय अनियमितता के आरोपी कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने रांची के एसीबी के विशेष अदालत में आत्मसमर्पण...

Mediation: रिश्तों की कड़वाहट खत्म हुई, जब आमने-सामने बैठे पति-पत्नी; अब जीवनभर रहेंगे साथ-साथ

Ranchi: Mediation रांची सिविल कोर्ट के मध्यस्थता केंद्र में विशेष मध्यस्थता अभियान चलाया गया। इस दौरान रिश्तों की कड़वाहट को भुलाकर तीन...

Jharkhand High Court decision: निर्वाचन सेवा के पदाधिकारी माने जाएंगे राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी

Ranchi: Jharkhand High Court decision झारखंड हाईकोर्ट ने अहम फैसला सुनाते हुए कहा कि राज्य विभाजन के समय निर्वाचन सेवा में आए...