processApi - method not exist
Home Civil Court News Mid Day Meal: 100 करोड़ का गबन करने वाले बिल्डर संजय तिवारी...

Mid Day Meal: 100 करोड़ का गबन करने वाले बिल्डर संजय तिवारी को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी ईडी

Ranchi: Mid Day Meal मिड डे मील के करीब सौ करोड़ से ज्यादा की राशि अपने खाते में ट्रांसफर कराने के आरोपित बिल्डर संजय कुमार तिवारी से ईडी पूछताछ करेगी। अपर न्यायायुक्त प्रथम एसके शशि की अदालत में गुरुवार को रिमांड पर लेकर पूछताछ करने से संबंधित ईडी की ओर से दाखिल आवेदन पर सुनवाई हुई।

सुनवाई के बाद अदालत ने तीन दिनों की रिमांड पर लेकर पूछताछ करने की अनुमति प्रदान की। ईडी की ओर से 15 दिनों की रिमांड के लिए आवेदन दिया गया था। ईडी ने 22 नवंबर को सौ करोड़ रुपये से अधिक के गबन मामले में बिल्डर संजय कुमार तिवारी को गिरफ्तार किया था और 23 नवंबर को जेल भेजा गया था।

बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा होटवार में बंद आरोपित को अपने साथ ले जाकर पूछताछ करेगी। पूछताछ की अवधि पूरी होने के बाद ईडी आरोपित को अदालत के समक्ष पेश करेगी। बता दें कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की हटिया शाखा से मिड डे मील के सौ करोड़ रुपये बिल्डर के खाते में पांच अगस्त 2017 को ट्रांसफर किया गया था।

इसे भी पढ़ेंः Lawyer Arrest: हाईकोर्ट में बिहार सरकार ने कहा- बिना सूचना के वकील को उठाने वाले मामले में जांच पदाधिकारी निलंबित

लोक अदालत के आयोजन के लिए पुलिस अधिकारियों का मांगा सहयोग
राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन 11 दिसंबर को होने जा रहा है। इसकी सफलता एवं आपराधिक मामलों का ससमय निष्पादन के लिए न्याय प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के बीच समन्वय को लेकर गुरुवार को कार्यशाला का आयोजन किया गया।

सिविल कोर्ट के 40 कोर्ट बिल्डिंग के कॉन्फ्रेंस हॉल में आयोजित कार्यशाला में सीजेएम विनय कुमार लाल ने कहा कि लोक अदालत में अधिक से अधिक वादों को निबटाने के लिए पुलिस पदाधिकारियों के सहयोग का आवश्यकता है, रांची जिले के बाहर के लोगों को भी नोटिस भेजा जाए, ताकि वादों को निबटारा करने में सफलता प्राप्त हो सके। इसकी सफलता को लेकर कई दिशा निर्देश दिया गया।

डालसा के प्रभारी सचिव मनोरंजन कुमार ने पुलिस पदाधिकारियों से आग्रह किया कि आगामी लोक अदालत में अधिक से अधिक वादों के निपटारा में सहयोग करें। डीएसपी प्रवीण कुमार सिंह ने कहा कि लोक अदालत को सफल बनाने के लिए पुलिस प्रशासन का पूरा-पूरा सहयोग रहेगा।

ताकि दोनों के प्रयास से अधिक से अधिक वादों का निस्तारण हो और पीड़ितों को शीध्र न्याय मिल सके। कार्यशाला में सिविल कोर्ट रजिस्ट्रार दिग्विजय नाथ शुक्ल, रांची एवं रांची के सभी थानों के थाना प्रभारी एवं पुलिस प्रशासन के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

Court News: बेटा होने पर शराब पार्टी के लिए पैसे नहीं देने पर टांगी से काटकर कर दी थी हत्या, तीन को आजीवन कारावास

Ranchi: Court News झारखंड के कोडरमा सिविल कोर्ट ने अमित हत्याकांड फैसला सुनाया है। अदालत ने टांगी से काट कर अमित की...

Scam: कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने कोर्ट में किया सरेंडर

Ranchi: Scam वित्तीय अनियमितता के आरोपी कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने रांची के एसीबी के विशेष अदालत में आत्मसमर्पण...

Mediation: रिश्तों की कड़वाहट खत्म हुई, जब आमने-सामने बैठे पति-पत्नी; अब जीवनभर रहेंगे साथ-साथ

Ranchi: Mediation रांची सिविल कोर्ट के मध्यस्थता केंद्र में विशेष मध्यस्थता अभियान चलाया गया। इस दौरान रिश्तों की कड़वाहट को भुलाकर तीन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Court News: बेटा होने पर शराब पार्टी के लिए पैसे नहीं देने पर टांगी से काटकर कर दी थी हत्या, तीन को आजीवन कारावास

Ranchi: Court News झारखंड के कोडरमा सिविल कोर्ट ने अमित हत्याकांड फैसला सुनाया है। अदालत ने टांगी से काट कर अमित की...

Scam: कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने कोर्ट में किया सरेंडर

Ranchi: Scam वित्तीय अनियमितता के आरोपी कृषि विभाग के प्रमुख अभियंता राघवेंद्र सिंह ने रांची के एसीबी के विशेष अदालत में आत्मसमर्पण...

Mediation: रिश्तों की कड़वाहट खत्म हुई, जब आमने-सामने बैठे पति-पत्नी; अब जीवनभर रहेंगे साथ-साथ

Ranchi: Mediation रांची सिविल कोर्ट के मध्यस्थता केंद्र में विशेष मध्यस्थता अभियान चलाया गया। इस दौरान रिश्तों की कड़वाहट को भुलाकर तीन...

Jharkhand High Court decision: निर्वाचन सेवा के पदाधिकारी माने जाएंगे राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी

Ranchi: Jharkhand High Court decision झारखंड हाईकोर्ट ने अहम फैसला सुनाते हुए कहा कि राज्य विभाजन के समय निर्वाचन सेवा में आए...