कोरोना संक्रमित शवों का प्रशासन कर रहा अंतिम संस्कार, हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर परिजनों ने मांगी अनुमति

याचिका में आरोप लगाया है कि जमशेदपुर में कोरोना संक्रमित शवों का उनके परिजनों को धार्मिक रीति रिवाज के अनुसार समुचित ढंग से अंतिम संस्कार नहीं करने दिया जा रहा है।

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट में जमशेदपुर में कोरोना संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार धर्म और रीति रिवाज के तहत समुचित ढंग से कराने व अंतेष्टी में परिजनों को शामिल किए जाने की मांग को लेकर जनहित याचिका दाखिल की गई है। जमशेदपुर के तितवनतो देवी महिला कल्याण संस्थान की ओर से अधिवक्ता अपराजिता भारद्वाज ने उक्त याचिका हाई कोर्ट में दाखिल की है।

उन्होंने बताया कि याचिका में आरोप लगाया है कि जमशेदपुर में कोरोना संक्रमित शवों का उनके परिजनों को धार्मिक रीति रिवाज के अनुसार समुचित ढंग से अंतिम संस्कार नहीं करने दिया जा रहा है। जमशेदपुर प्रशासन के द्वारा जैसे-तैसे शवों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है जो कि गलत है। याचिका में कहा गया है कि डब्ल्यूएचओ और केंद्र सरकार ने जो गाइडलाइंस जारी की है।

इसे भी पढ़ेंः सीटी स्कैन मशीनः हाईकोर्ट ने कहा- लोग मर रहे हैं, सरकार व रिम्स कर रहे पत्राचार

उसके अनुसार शव के परिजनों को उसके अंतिम संस्कार करने की अनुमति दी जानी है। लेकिन जमशेदपुर में टाटा के टीएमएच अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत होने पर उक्त शव को उसके परिजन को न देकर जमशेदपुर जिला प्रशासन को सौंप दिया जाता है। जमशेदपुर प्रशासन उनके परिजन को सूचना तो देते हैं कि उक्त तिथि को उक्त स्थान पर कोरोना से मौत होने वाले शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

लेकिन अंतिम संस्कार में उनके परिजनों को शामिल नहीं होने दिया जाता है। ऐसे में पता ही नहीं चल पाता है कि किस व्यक्ति का अंतिम संस्कार किया गया है। इसको देखते हुए संस्थान की ओर से हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर कोरोना संक्रमण से होने वाले मौत के बाद अंतिम संस्कार में उनके परिजनों को शामिल होने की अनुमति देने की मांग अदालत से की गई है।

Most Popular

मैनहर्ट घोटालाः पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को एसीबी ने भेजा नोटिस

Ranchi: Manhart Scam Case In Jharkhand मैनहर्ट को परामर्शी नियुक्त किए जाने के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास की मुश्किलें बढ़ती...

बड़ा फैसला: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- 31 जुलाई तक सभी बोर्ड मूल्यांकन नीति के आधार पर जारी करें 12वीं के परिणाम

New Delhi: 12th Results सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को राज्य शिक्षा बोर्डों को बारहवीं कक्षा के आतंरिक मूल्यांकन के परिणाम 31 जुलाई...

मृत्यू प्रमाण पत्र के मूल दस्तावेज की जगह स्कैन कॉपी देने पर हाईकोर्ट ने आरएमसी को लगाई फटकार

Ranchi: Death Certificate Ranchi Municipal Corporation झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत ने रांची...

स्थापना दिवस घोटालाः हाईकोर्ट ने महालेखाकार से ऑडिट के मूल दस्तावेज सीलबंद लिफाफे में मांगा

Ranchi: Foundation Day Scam In Jharkhand झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत में...