जमीन विवाद: पूर्व डीजीपी डीके पांडेय की पत्नी पूनम पांडेय जमीन निबंधन रद करने के खिलाफ हाई कोर्ट पहुंची

कांके सीओ ने पूनम पांडेय को एक नोटिस भेजकर कहा है कि उक्त जमीन गैरमजरूआ है। इसलिए इस जमीन की जमाबंदी नहीं हो सकती। क्यों नहीं आपके जमीन की जमाबंदी को रद कर दिया जाए।

रांची झारखंड के पूर्व डीजीपी डीके पांडेय की पत्नी पूनम पांडेय ने झारखंड हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर जमीन के निबंधन को रद करने की चुनौती दी है। इस पर सोमवार को सुनवाई होगी।

पूनम पांडेय की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया है कि उक्त जमीन का म्यूटेशन हो चुका है और सरकार इसके खिलाफ अपील में भी नहीं गई थी। लेकिन अब उक्त जमीन के निबंधन को रद करने की प्रक्रिया की जा रही है, जो की सही नहीं है।

इसलिए अदालत इस मामले में तत्काल रोक लगाएं। कांके सीओ ने पूनम पांडेय को एक नोटिस भेजकर कहा है कि उक्त जमीन गैरमजरूआ है। इसलिए इस जमीन की जमाबंदी नहीं हो सकती। क्यों नहीं आपके जमीन की जमाबंदी को रद कर दिया जाए।

झारखंड हाई कोर्ट से उक्त नोटिस पर रोक लगाने की भी मांग की गई है। बता दें कि डीके पांडेय ने अपनी पत्नी पूनम पांडेय के नाम से कांके अंचल के चामा में जमीन खरीदी है। कहा जा रहा है कि उक्त जमीन गैरमजरूआ है और अवैध तरीके से जमाबंदी कराई गई है।

Most Popular

मनी लाउंड्रिंग मामले में आरोपी पूर्व मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी के पीए मनोज कुमार को मिली जमानत

रांचीः झारखंड हाई कोर्ट के जस्टिस रंगोन मुखोपाध्याय की अदालत में पूर्व मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी के पीए मनोज कुमार की जमानत पर...

सुप्रीम कोर्ट ने दुष्कर्म के आरोपी से पीड़िता की शादी करने की बात को नकारा, सीजेआई ने कहा- गलत रिपोर्टिंग हुई

नई दिल्लीः दुष्कर्म के आरोपी को पीड़िता से शादी करने के लिए कहने वाली बात को सुप्रीम कोर्ट ने नकारते हुए कहा कि...

शिक्षक नियुक्तिः हाई कोर्ट ने कहा- जेएसएससी का निर्णय सही, खारिज की याचिका

रांचीः झारखंड हाई कोर्ट के जस्टिस संजय कुमार द्विवेदी की अदालत में हाई स्कूल शिक्षक नियुक्ति मामले में उम्र को चुनौती देने...

सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों से पूछा- 50 फीसद से ज्यादा आरक्षण देना सही या नहीं?

नई दिल्ली। मराठा आरक्षण (Maratha reservation) मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने सोमवार को सभी राज्य सरकारों को नोटिस जारी कर...