processApi - method not exist
Home National News सीजेआइ ने कहा-अदालती कार्यवाही का सजीव प्रसारण दोधारी तलवार, गुजरात हाईकोर्ट की...

सीजेआइ ने कहा-अदालती कार्यवाही का सजीव प्रसारण दोधारी तलवार, गुजरात हाईकोर्ट की कार्यवाही का शुरू हुआ सजीव प्रसारण

अदालती कार्यवाही के सजीव प्रसारण (Live Streaming) के जरिए न्यायप्रणाली में पारदर्शिता की पैरवी करते हुए प्रधान न्यायाधीश (CJI) एनवी रमना ने साथी न्यायाधीशों को चेताया कि ऐसी खुली पहुंच कभी-कभी दोधारी तलवार भी बन सकती है

New Delhi: अदालती कार्यवाही के सजीव प्रसारण (Live Streaming) के जरिए न्यायप्रणाली में पारदर्शिता की पैरवी करते हुए प्रधान न्यायाधीश (CJI) एनवी रमना ने साथी न्यायाधीशों को चेताया कि ऐसी खुली पहुंच कभी-कभी दोधारी तलवार भी बन सकती है और वे निष्पक्षता खोने और लोकप्रिय विचारधारा से प्रभावित होने का जोखिम नहीं उठा सकते।

गुजरात हाई कोर्ट की कार्यवाही के सजीव प्रसारण के उद्घाटन अवसर पर जस्टिस रमना ने कहा कि नागरिकों को जानने का अधिकार है जिसे अदालती कार्यवाही तक पहुंच की अनुमति देकर बढ़ावा दिया जा सकता है। जानकार नागरिकों की दम पर ही प्रतिनिधि लोकतंत्र अस्तित्व में रह सकता है और विकसित हो सकता है।

इसे भी पढ़ेंः कोर्ट ने कहा- मकान मालिक किरायेदार को बिजली-पानी से नहीं कर सकता वंचित

उन्होंने कहा कि सही दिशा में एक कदम भी सावधानी से बढ़ाना चाहिए। कभी-कभी कार्यवाही का सजीव प्रसारण दोधारी तलवार बन सकता है। जज लोगों का दबाव महसूस कर सकते हैं जिससे दबावपूर्ण वातावरण बन सकता है जो शायद न्याय व्यवस्था के लिए अनुकूल न हो। न्यायाधीश को याद रखना चाहिए कि अगर न्याय लोकप्रिय धारणा के खिलाफ खड़े होने की मांग करे तो उसे ऐसा करना चाहिए।’

सजीव प्रसारण के नुकसान गिनाते हुए उन्होंने नागरिकों की निजता और प्रमुख गवाहों व पीड़ितों समेत वादियों की सुरक्षा के प्रति चिंता भी जाहिर की। इसके लिए सीजेआइ ने सजीव प्रसारण के नियमों को सावधानीपूर्वक परखने को जरूरी बताया। उन्होंने वकीलों को भी चेताया और पब्लिसिटी के पीछे नहीं भागने की सलाह दी।

RELATED ARTICLES

सुप्रीम कोर्ट के जज बोले- सत्ता बचाने के लिए सरकारें झूठ बोलती हैं, पर्दाफाश करें बुद्धिजीवी

New Delhi: सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा कि फेसबुक और ट्विटर जैसे प्लैटफॉर्म को भी झूठी खबरों पर...

काशी विश्वनाथ मंदिर: जमीन की अदला-बदली के खिलाफ कोर्ट जाएंगे वादमित्र

Varanasi: भगवान विश्वेश्वरनाथ (बाबा काशी विश्वनाथ) के वादमित्र विजयशंकर रस्तोगी ने ज्ञानवापी परिसर स्थित जमीन की सुन्नी वक्फ बोर्ड और मंदिर प्रशासन...

दाढ़ी काटने का मामला: योगी सरकार ने ट्विटर इंडिया के एमडी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की याचिका

Lucknow: MD of Twitter India उत्तर प्रदेश सरकार ने कर्नाटक हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

6th JPSC Exam: 326 की नौकरी बचेगी या जाएगी, हाईकोर्ट में सुनवाई आज

Ranchi: 6th JPSC Exam छठी जेपीएससी के मेरिट लिस्ट को निरस्त करने के एकल पीठ के आदेश के खिलाफ अपील पर आज...

JPSC AE Exam: आर्थिक रूप से कमजोर को दस प्रतिशत आरक्षण देने के मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

Ranchi: JPSC AE Exam झारखंड में सहायक अभियंता नियुक्ति में आर्थिक रूप से कमजोर सवर्णों को दस प्रतिशत आरक्षण देने के झारखंड...

Delhi Riots : अदालत ने आरोपी को अनावश्यक प्रताड़ित करने के लिए पुलिस पर लगाया 25 हजार का जुर्माना

New Delhi: Delhi riots दिल्ली की एक अदालत ने फरवरी 2020 के दंगे मामले में आरोपी को ‘अनावश्यक रूप से प्रताड़ित’ किए...

Cruise Drugs Case: आर्यन खान के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंची शिवसेना, कहा- जमानत नहीं देना आरोपी का अपमान; 17 रातों से जेल रखना अवैध

New Delhi: Cruise Drugs Case मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी में गिरफ्तार बालीवुड स्टार शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान के मौलिक अधिकारों...