झारखंड के पीसीसीएफ पीके वर्मा की नियुक्ति रद, कैट ने कहा- करें नई नियुक्ति

प्रधान मुख्य वन संरक्षक पीके वर्मा की नियुक्ति केंद्रीय प्रशासनिक न्यायाधिकरण (कैट) ने रद कर दी है। कैट ने राज्य सरकार को चार सप्ताह में इस पद पर नई नियुक्ति करने का निर्देश दिया है।

रांचीः प्रधान मुख्य वन संरक्षक पीके वर्मा की नियुक्ति केंद्रीय प्रशासनिक न्यायाधिकरण (कैट) ने रद कर दी है। कैट ने राज्य सरकार को चार सप्ताह में इस पद पर नई नियुक्ति करने का निर्देश दिया है।

पीके वर्मा की नियुक्ति को पीसीसीएफ शशि नंदकुलियार ने चुनौती दी थी और उन्हें पद की योग्यता नहीं रखने का आरोप लगाया था। पूर्व में सुनवाई करते हुए कैट ने आदेश सुरक्षित रख लिया था।

कैट ने फैसला सुनाते हुए पीके वर्मा की नियुक्ति के लिए जारी अधिसूचना रद कर दी। कैट ने अपने आदेश में माना है कि पीके वर्मा इस पद के लिए जो वांछित योग्यता है उसे पूरा नहीं करते। इस कारण उनकी नियुक्ति वैध नहीं मानी जा सकती।

इसे भी पढ़ेंः सब इंस्पेक्टर नियुक्ति के मॉडल पेपर गलत होने का आरोप, हाईकोर्ट ने खारिज की याचिका

कैट ने अपने आदेश में कहा है कि पीसीसीएफ की नियुक्ति के दौरान सभी प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया गया और वांछित योग्यता पर गौर नहीं किया गया। इस कारण उनकी नियुक्ति के लिए जारी अधिसूचना रद की जाती है।

सरकार ने 24 जून 2020 को पीके वर्मा को पीसीसीएफ और झारखंड राज्य प्रदूषण नियंत्रक पर्षद का अध्यक्ष बनाया था। वर्मा को पीसीसीएफ और प्रदूषण नियंत्रक पर्षद का अध्यक्ष बनाये जाने के बाद पूर्व मंत्री सरयू राय ने भी आपत्ति जताई थी।

इस मामले को लेकर जमशेदपुर के मानगो निवासी प्रतीक शर्मा ने झारखंड हाईकोर्ट में एक याचिका भी दायर कीहै। याचिका में कहा गया है कि पीके वर्मा को पीसीसीएफ बनाना सही नहीं है।

वन्य जीव प्रतिपालक के रूप में पीके वर्मा ने दायित्व का पालन नहीं किया है। याचिका में उनपर लगे कई आरोपों का जिक्र भी किया गया है।

Most Popular

विश्व संगीत दिवस ‘फेटे डी ला म्यूजिक’ यानि म्यूजिक दिवस के बारे में जानें

Music Day 21 जून को 'विश्व संगीत दिवस' सम्पूर्ण विश्व में मनाया जाता है। इस दिन को 'फेटे डी ला म्यूजिक' के...

रेमडेसिविर कालाबाजारीः हाईकोर्ट ने कहा- जांच में न हो दखल, एडीजी अनिल पालटा की एसआईटी करेगी जांच

Ranchi: रेमडेसिविर सहित कोरोना की दवा की कालाबाजारी मामले की जांच अब एसआईटी करेगी। इसका नेतृत्व एडीजी अनिल पालटा करेंगे। राज्य सरकार...

कोरोना से मरने वालों को 4 लाख मुआवजा देना संभव नहीं, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया हलफनामा

New Delhi: केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि कोविड-19 से जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों को चार लाख...

पेंशन मामलाः हाईकोर्ट ने कहा- दो सप्ताह में दें जवाब नहीं, तो लगेगा भारी हर्जाना

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस आनंद सेन की अदालत में पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करने के की मांग वाली याचिका पर सुनवाई...