स्वास्थ्य सचिव कोरोना संक्रमित, जवाब दाखिल करने के लिए हाईकोर्ट से मांगा समय

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की अदालत में गुरुवार को कोरोना संक्रमण से निपटने के मामले में सुनवाई हुई। सरकार की ओर से इस मामले में शपथ पत्र दाखिल करने के लिए समय की मांग की गई जिसे स्वीकार करते हुए अदालत ने इस मामले की सुनवाई 29 अप्रैल को निर्धारित की है।

सुनवाई के दौरान अदालत को बताया गया कि सरकार की ओर से कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए सुरक्षा सप्ताह के तहत कई पाबंदियां लगाई गई हैं। स्वास्थ्य सचिव को भी सुनवाई के दौरान अदालत में हाजिर होना था। लेकिन राज्य सरकार की ओर से बताया गया कि स्वास्थ्य सचिव समेत कई अधिकारी कोरोना संक्रमित हैं।

इसे भी पढ़ेंः Corona Good News: झालसा ने हर जिले में बनाया वार रूम, फ्री में मिलेंगी दवाएं और चिकित्सकीय सलाह

इसलिए स्वास्थ्य सचिव का प्रभार एक दिन पहले ही दूसरे अधिकारी को दिया गया है। सरकार की ओर से शपथपत्र दाखिल करने के लिए अदालत से समय देने का आग्रह किया गया। सरकार ने कहा कि अगली तिथि को हाई कोर्ट की ओर से जो भी जानकारी मांगी गई है सरकार बिंदुवार उसका जवाब दाखिल करेगी।

बता दें कि झारखंड स्टेट बार काउंसिल की ओर से कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए 25 अप्रैल तक अधिवक्ता और अधिवक्ता लिपिक को किसी भी तरह की अदालती कार्यवाही में शामिल नहीं होने का निर्देश दिया है। काउंसिल के निर्देश के आलोक में झारखंड हाई कोर्ट के अधिवक्ता भी अदालती कार्य में शामिल नहीं हुए।

Most Popular

34th National Games Scam: आरके आनंद को लगा झटका, एसीबी कोर्ट ने खारिज की अग्रिम जमानत

Ranchi: 34वें राष्ट्रीय खेल घोटाले (34th National Games Scam) के आरोपी आरके आनंद (RK Anand) को बड़ा झटका लगा है। एसीबी कोर्ट...

6th JPSC Exam: जेपीएससी ने एकलपीठ के आदेश के खिलाफ दाखिल की अपील, कहा- मेरिट लिस्ट में कोई गड़बड़ी नहीं

Ranchi: झारखंड लोक सेवा आयोग (JPSC) की ओर से छठी जेपीएससी परीक्षा (6th JPSC) के मेरिट लिस्ट को निरस्त करने के एकल...

वित्तीय अनियमितता के मामले में सीयूजे के चिकित्सा पदाधिकारी के खिलाफ चलेगी विभागीय कार्रवाई, एकलपीठ का आदेश निरस्त

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand High Court) ने केंद्रीय विश्वविद्यालय, झारखंड (CUJ) के एक मामले में एकलपीठ के आदेश को निरस्त कर दिया...

21 साल से लड़ रहे थे तलाक की लड़ाई, सीजेआई की ये बात सुन साथ रहने को राजी हो गए पति-पत्नी

New Delhi: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India) ने 21 साल साल से कानूनी लड़ाई लड़ रहे आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के...