processApi - method not exist
Home high court news Raj Kundra Bail: राज कुंद्रा को बेल मिलेगी या जेल में रहना...

Raj Kundra Bail: राज कुंद्रा को बेल मिलेगी या जेल में रहना होगा, बम्‍बई हाई कोर्ट में उनकी जमानत पर सुनवाई आज

पोर्नोग्राफी केस (Pornography Case) में राज कुंद्रा की ओर से बम्‍बई हाई कोर्ट (Bombay High Court) से जमानत याचिका दाखिल की गई है।

Mumbai: पोर्नोग्राफी केस (Pornography Case) में राज कुंद्रा की ओर से बम्‍बई हाई कोर्ट (Bombay High Court) से जमानत याचिका दाखिल की गई है। इस पर आज सुनवाई होने वाली है। इधर, मुंबई पुलिस एक बार फिर कुंद्रा की जमानत (Raj Kundra Bail Plea) का विरोध करेगी। पूछताछ और जांच को आगे बढ़ाने के लिए पुलिस कोर्ट से अपील करेगी कि उनकी कस्‍टडी को बढ़ाई जाए।

राज कुंद्रा के साथ ही उनकी कंपनी के आईटी हेड रायन थार्प की पुलिस कस्‍टडी भी 27 जुलाई को खत्‍म हो रही है। पोर्नोग्राफी केस में पुलिस ने अभी तक 11 लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि श‍िल्‍पा शेट्टी समेत कई अन्‍य से पूछताछ हुई है। हाल ही मामले में शर्लिन चोपड़ा को भी समन भेजा गया है।

67 (ए) में फंस सकती है राज कुंद्रा की जमानत का पेंच

राज कुंद्रा की जमानत में सबसे बड़ा पेंच आईटी ऐक्‍ट की धारा 67 (ए) में फंसा हुआ है। यह गैर जमानती धारा है। इसी के तहत राज कुंद्रा पर आरोप हैं कि वह पॉर्न फिल्‍म बनाने, उसे बेचने और प्रसारित करने का काम करते थे। राज कुंद्रा के वकील सुभाष जाधव का कहना है कि उनके मुवक्‍किल की गिरफ्तारी अवैध है। वकील के मुताबिक, राज कुंद्रा जो फिल्‍में बनाते थे वह ‘इरॉटिका’ की श्रेणी में आते हैं, ‘पॉर्न’ की श्रेणी में नहीं। इसलिए पुलिस ने गलत धाराओं में गिरफ्तारी की है।

ऑनलाइन सट्टेबाजी का शक, बैंक अकाउंट सीज

क्राइम ब्रांच के इस मामले में 4000 पन्‍नों की चार्जशीट दाखिल की है। पुलिस पॉर्न फिल्‍म मामले में अब मनी ट्रेल के पीछे पड़ी है। 19 जुलाई की रात को राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उनके ‘विआन इंडस्‍ट्रीज’ के दफ्तर में छापेमारी की। राज कुंद्रा के घर जाकर तलाशी ली। वहीं, घर में श‍िल्‍पा शेट्टी से भी पूछताछ हुई।

इसे भी पढ़ेंः सिपाही नियुक्ति नियमावली के मामले में बहस जारी, अगली सुनवाई 17 अगस्त को होगी

कानपुर में राज कुंद्रा के दो बैंक अकाउंट भी सीज किए हैं, जिसमें कथ‍ित तौर पर करोड़ों रुपये हैं। पुलिस को शक है कि राज कुंद्रा पॉर्न फिल्‍मों की कमाई से ऑनलाइन सट्टेबाजी भी करते थे। किला कोर्ट में पुलिस ने यह कहा था कि इस मामले में राज कुंद्रा के बैंक खातों की जांच करने की जरूरत है। लिहाजा, उनसे और अध‍िक पूछताछ की जरूरत है। जाहिर तौर पर कोर्ट में पुलिस मंगलवार को भी यह तर्क देगी।

राज कुंद्रा की कंपनी के कर्मचारी बने गवाह

पुलिस ने इस मामले में राज कुंद्रा की कंपनी के कई कर्मचारियों से भी पूछताछ की है। इनमें से कई कर्मचारी गवाह बनने के लिए तैयार हो गए हैं। पुलिस का दावा है कि वॉट्सऐप चैट, दफ्तर से जब्‍त किए गए वीडियोज, बैंक अकाउंट में पैसों के लेन-देन और गवाहों के बयान के आधार पर उनके पास पुख्‍ता सबूत हैं कि राज कुंद्रा ही पॉर्न फिल्‍म रैकेट के असली मास्‍टरमाइंड हैं।

RELATED ARTICLES

जेएसएससी नियुक्ति में राज्य के संस्थान से 10वीं व 12वीं की परीक्षा पास होने की अनिवार्य शर्त पर झारखंड सरकार कायम

झारखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डा रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की खंडपीठ में जेपीएससी परीक्षा नियुक्ति में दसवीं और...

छात्र विनय महतो हत्याकांडः पिता ने लड़ी चार साल की कानूनी लड़ाई, अब 12 साल के बेटे के हत्यारों का खुलेगा राज सीबीआई करेगी...

छात्र विनय महतो हत्याकांड- पिता ने लड़ी चार साल की कानूनी लड़ाईः सफायर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र विनय महतो की हत्या मामले...

ANM Exam: हाई कोर्ट ने कहा- सभी छात्रों को 18 मई तक जारी करें एडमिट कार्ड

ANM Exam: झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस संजय कुमार द्विवेदी की अदालत में एएनएम और जीएनएम की परीक्षा का एडमिट कार्ड रद किए...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

जेएसएससी नियुक्ति में राज्य के संस्थान से 10वीं व 12वीं की परीक्षा पास होने की अनिवार्य शर्त पर झारखंड सरकार कायम

झारखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डा रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की खंडपीठ में जेपीएससी परीक्षा नियुक्ति में दसवीं और...

ईडी को ललकारने वाले सीएम हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा से छह दिन होगी पूछताछ

अवैध खनन और टेंडर मैनेज करने से जुड़े मनी लाउंड्रिंग मामले में गिरफ्तार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के बरहेट विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा...

6th JPSC Exam: सुप्रीम कोर्ट में बोली झारखंड सरकार, नौकरी से निकाले गए 60 को नहीं कर सकते समायोजित

6th JPSC Exam: छठी जेपीएससी नियुक्ति को लेकर झारखंड हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दाखिल एसएलपी पर सुनवाई...

जांच अधिकारी ने नहीं दी गवाही, पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और पूर्व विधायक निर्मला देवी साक्ष्य के अभाव में बरी

पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और उनकी पत्नी पूर्व विधायक निर्मला देवी समेत चार आरोपी को अदालत ने पर्याप्त साक्ष्य के अभाव में...