Corona Effect: कोरोना संक्रमण के चलते अदालतों में ऑनलाइन होगी सुनवाई, हाईकोर्ट में लगेंगे कम मामले

Corona Effect in Jharkhand कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य की सभी निचली अदालतों में अब ऑनलाइन ही सुनवाई होगी।

Ranchi: कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे के बीच झारखंड हाई कोर्ट में सोमवार से अदालत में कम मामले सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किए जाएंगे। हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन ने कोर्ट में प्रतिदिन लगने वाली केस को कम करने का संकेत जनहित याचिकाओं की सुनवाई के दौरान दिया था। जिसके बाद हाई कोर्ट के सोमवार के कॉज लिस्ट में केस की संख्या कम कर दी गई है। दरअसल, एडवोकेट एसोसिएशन की अध्य रितु कुमार ने केस कम लगाने का आग्रह चीफ जस्टिस से किया था। जिस पर चीफ जस्टिस ने निर्णय लेने की बात कही थी। सोमवार को सभी अदालतों में 15 से 20 केस सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किए गए हैं। वहीं जमानत याचिका और अग्रिम जमानत याचिका सुनने करने वाली हाई कोर्ट की बेंच 50- 50 केस सुनवाई के लिए सूचीबद्ध हैं।

निचली अदालतों में अब होगी ऑनलाइन सुनवाई

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य की सभी निचली अदालतों में अब ऑनलाइन ही सुनवाई होगी। इस संबंध में झारखंड हाई कोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल अंबुज नाथ ने सभी जिला प्रधान न्यायाधीशों को पत्र लिखा है। पत्र में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब मामलों की ऑनलाइन सुनवाई की जाए। इस दौरान कोरोना संक्रमण को लेकर हाई कोर्ट की ओर से बनाए गए एसओपी का भी पालन किया जाए। बता दें कि पिछले दिनों कोरोना संक्रमण में कमी होने पर पर और अधिवक्ताओं की मांग को देखते हुए निचली अदालतों में फिजिकली सुनवाई शुरू कर दी गई थी। लेकिन अब कोरोना संक्रमण के दूसरे चरण को देखते हुए फिजिकली सुनवाई को पूरी तरह से स्थगित करते हुए ऑनलाइन सुनवाई करने का निर्देश जारी किया गया है।

Most Popular

विश्व संगीत दिवस ‘फेटे डी ला म्यूजिक’ यानि म्यूजिक दिवस के बारे में जानें

Music Day 21 जून को 'विश्व संगीत दिवस' सम्पूर्ण विश्व में मनाया जाता है। इस दिन को 'फेटे डी ला म्यूजिक' के...

रेमडेसिविर कालाबाजारीः हाईकोर्ट ने कहा- जांच में न हो दखल, एडीजी अनिल पालटा की एसआईटी करेगी जांच

Ranchi: रेमडेसिविर सहित कोरोना की दवा की कालाबाजारी मामले की जांच अब एसआईटी करेगी। इसका नेतृत्व एडीजी अनिल पालटा करेंगे। राज्य सरकार...

कोरोना से मरने वालों को 4 लाख मुआवजा देना संभव नहीं, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया हलफनामा

New Delhi: केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि कोविड-19 से जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों को चार लाख...

पेंशन मामलाः हाईकोर्ट ने कहा- दो सप्ताह में दें जवाब नहीं, तो लगेगा भारी हर्जाना

Ranchi: झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस आनंद सेन की अदालत में पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करने के की मांग वाली याचिका पर सुनवाई...